भोपाल गैंगरेप केस में भोपाल रेंज आईजी योगेश चौधरी और एसपी अनिता मालवीय हटाए गए

  • भोपाल गैंगरेप केस में भोपाल रेंज आईजी योगेश चौधरी और एसपी अनिता मालवीय हटाए गए
You Are HereLatest News
Sunday, November 05, 2017-6:29 PM

भोपालः प्रदेश की राजधानी में हुए गैंगरेप के बाद एसपी रेल अनिता मालवीय के असंवेदनशील बयानों को सरकार गंभीरता से लिया है। सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुए बयानों के बाद उन्‍हें वर्तमान जिम्‍मेदारियों से हटाकर पुलिस मुख्‍यालय अटैच किया गया है। साथ ही भोपाल रेंज के आईजी योगेश चौधरी की भी बदलती की गई है।उनकी जगह जयदीप प्रसाद को आईजी भोपाल का प्रभार सौंपा गया है।

गौरतलब है कि राजधानी में हुए गैंगरेप के बाद एसपी रेल अनिता मालवीय के गैरजिम्मेदाराना बयान की सोशल मीडिया में जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। गैंगरेप के सवालों का हंसते हुए जवाब देने के कारण अनिता मालवीय शनिवार को दिनभर सोशल मीडिया पर ट्रोल हुईं। सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने भी अनिता मालवीय पर जमकर निशाना साधा था।

मप्र खाद्य आपूर्ति निगम के अध्यक्ष डॉ. हितेश वाजपेयी ने फेसबुक पर लिखा कि अक्षम, असंवदेनशील व आपराधिक-लापरवाही करने वाले पुलिस अधिकारियों को सेवाओं के लिए अयोग्य मानते हुए सेवा से पृथक करने की व्यवस्था होना चाहिए। वहीं भाजपा के प्रोफेशनल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विकास बोंदरिया ने फेसबुक पर शेम अनिता मालवीय हैशटैग से अभियान चलाया। 

उन्होंने लिखा कि प्रशासन में संवेदनशीलता अपेक्षित है। कामकाज की प्रतिकूलता में अनुशासनात्मक कार्रवाई हो सकती है, लेकिन प्रतिकूल हाव-भाव की निंदा तो होनी चाहिए। सामाजिक निंदा का डर भी व्यक्ति को समाज के अनुकूल बनाए रखता है। इसके बाद सरकार ने दोनों पुलिस अफसरों का तबादला कर दिया। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You