मोबाइल Format ने बचाई इस युवक की जान

  • मोबाइल Format ने बचाई इस युवक की जान
You Are HereNational
Monday, September 25, 2017-3:23 PM

बैतूल: मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में एक युवक के जानलेवा ब्लू व्हेल गेम के फेर में पडऩे, लेकिन थोड़ी समझबूझ से इससे अलग होने का मामला सामने आया है। पाथाखेड़ा का ओमप्रकाश नाम का ये युवक इस गेम की सच्चाई जानने के लिए इसके चक्रव्यूह में जा फंसा था। एडमिन के बताए निर्देशों का पालन उसने 7वीं स्टेज तक किया, लेकिन इसके बाद उसने अपनी मां को मारे जाने की धमकियों के बावजूद खुद को गेम से अलग कर लिया। युवक अब लोगों को गेम से दूर रहने की सलाह दे रहा है।  

पाथाखेड़ा के सुभाष नगर में रहने वाले ओमप्रकाश चौहान (23) ने बताया कि एक दिन उसके फेसबुक अकाउंट पर इस गेम का लिंक आया। क्लिक करने पर वह इंस्टॉल हो गया और उसका मोबाइल इससे जुड़ गया। वह स्काइप चैट पर एक ग्रुप से जुड़ गया। अगले दिन उसे इस गेम में एंट्री का कोड उसे मिला। इसके बाद एक के बाद एक उसने 7 स्टेप पार कर ली। इस दौरान उसने अपने हाथों पर कई बार न केवल नुकीली चीजों से विभिन्न आकृतियां और अंक लिखे, बल्कि टास्क पूरा करने के लिए वह रेलवे पटरी पर नंगे पांव भी दौड़ा। 

ओमप्रकाश के मुताबिक इस गेम में एडमिन दिमाग और मोबाइल दोनों पर पूरी तरह कब्जा कर लेता है। धमकी देकर वह टास्क पूरा कराता है। इसलिए इस गेम से दूर रहते हुए इसका लिंक तक ओपन नहीं करना चाहिए। ओमप्रकाश के मुताबिक वह सिर्फ इसे आजमा रहा था, लेकिन एडमिन ने मोबाइल हैक कर घर का पता और नंबर तक जान लिया। गेम के एडमिन ने युवक की मां की हत्या करने की धमकी देकर टास्क पूरा करने को कहा। हालांकि मोबाइल फॉर्मेट करने के बाद अब उसके पास कोई कॉल नहीं आया।  

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You