शिवराज को बचाने के लिए सीबीआई ने की सबूतों से छेड़छाड़-कांग्रेस

  • शिवराज को बचाने के लिए सीबीआई ने की सबूतों से छेड़छाड़-कांग्रेस
You Are HereNational
Wednesday, November 01, 2017-6:31 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने केंद्रीय जांच ब्यूरो पर‘गद्दार’होने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसने व्यापक घोटाला मामले में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बचाने के लिए सबूतों के साथ छेड़छाड की है और कांग्रेस सचाई सामने के लिए निचली अदालत में याचिका दायर करेगी।

कांग्रेस प्रवक्ता एवं वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने पार्टी मुख्यालय में एक प्रेस कांफ्रेंस में इस मामले में चौहान को क्लीन चिट देने के लिए सीबीआई की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि वह ‘कंप्रोमाइज ब्यूरो आफ इंस्वेटिगेशन ‘यानी‘समझौता करने वाली एजेंसी‘बन गई है।

जिस देश में जांच एजेंसी ही निष्पक्ष जांच न करे और कानून के शासन की अवहेलना करने लगे उसमें लोकतंत्र का क्या हाल होगा। यह सिर्फ राजनीतिक दलों के लिए नहीं बल्कि सबके लिए खतरनाक है। सिब्बल ने कहा कि सीबीआई का कहना है कि उसने उस हार्ड डिस्क को 18 जुलाई 201& को जब्त किया जिसमें व्यापम से जुडे आंकड़े थे जबकि उससे पहले 17 जुलाई को हार्ड डिस्क को खोलने के लिए इसके विशेषज्ञ प्रशान्त पांडे की सेवाएं महानिरीक्षक के कार्यालय में ली गईं थीं।

इसका मतलब हार्ड डिस्क पहले ही जब्त की जा चुकी थी। उन्होंने बताया कि पांडे ने हार्ड डिस्क के पूरे आंकडे एक पेन ड्राइव में ले लिए थे। यह पेन ड्राइव अब कांग्रेस के पास है। सिब्बल ने दावा किया कि पेन ड्राइव और सीबीआई के हार्ड डिस्क के आंकडों में फर्क है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You