राजनाथ के सामने चैम्बर ने भाजपा नेताओं की खोली पोल, कहा लोग करते हैं ठगा सा महसूस

  • राजनाथ के सामने चैम्बर ने भाजपा नेताओं की खोली पोल, कहा लोग करते हैं ठगा सा महसूस
You Are HereNational
Tuesday, September 12, 2017-12:40 PM

जम्मू: चैम्बर ऑफ कामर्स ने केन्द्रिय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं की खूब किरकिरी की। चैम्बर ने कहा कि जिन लोगों ने मोदी की पर अंधविश्वास कर भाजपा नेताओं को वोट दिये हैं वे अब ठगा सा महसूस करते हैं। सिर्फ यही नहीं बल्कि यह भी कहा कि केन्द्र ने मंत्रियों और नेताओं के लिए कोई जिम्मेदारी और जवाबदेही तय नहीं करके रखी है। सीसीआई ने केन्द्रिय गृहमंत्री को एक ज्ञापन पत्र सौंपा जिसमें भाजपा नेताओं के कार्यों पर पूरी तरह असंतोष जताया गया और मांग की गई कि केन्द्र सरकर एक निष्पक्ष टीम भेजकर इनके कार्यों की जांच करवाए।


ज्ञापन पत्र में कहा गया है कि एक निष्पक्ष टीम आनी चाहिए और वो राज्य के आम लोगों से मुलाकात कर भाजपा नेताओं के कार्यों के बारे में जनता की राय ले। सीसीआई के प्रधान राकेश गुप्ता ने चैम्बर के अन्य अधिकारियों के साथ मिलकर राजनाथ सिंह से मुलाकात की। उन्होंने मांग की है कि सभी धार्मिक स्थलों से पब्लिक एनउासंमेंट सिस्टम को हटा दिया जाए क्योंकि तनाव के दौरान इससे लोगों को भडक़ाने का काम किया जाता है। उन्होंने यह भी कहा कि बिना जमीनी हालात जाने केन्द्र सरकार इस राज्य को लेकर कोई भी बयान जारी न करे क्योंकि इससे जम्मू वर्सेज कश्मीर और फिर कश्मीर वर्सेज इंडिया की स्थिति पैदा हो जाती है।


रोहिंग्या मुस्लमानों को वापिस भेजने की मांग
डेलीगेशन ने रोहिंग्या मुस्लमानों को वापिस भेजने की भी मांग की है। उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों में आता है कि सरकार इस मामले में गंभीर पर है हकीकत में ऐसा कुछ दिखाई नहीं देता है। चैम्बर ने कहा कि रोहिंग्याओं को रिफ्यूजियों की तरह न देखा जाए क्योंकि यह रजिस्टर नहीं हैं और आने वाले दिनों में एक खतरा साबित हो सकते हैं।

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You