चंडीगढ़ बनेगा चाइल्ड लेबर फ्री, 2017 तक का रखा लक्ष्य

  • चंडीगढ़ बनेगा चाइल्ड लेबर फ्री, 2017 तक का रखा लक्ष्य
You Are HereChandigarh
Thursday, November 17, 2016-8:38 PM

चंडीगढ़, (रश्मि): 2017 तक चंडीगढ़ को चाइल्ड लेबर फ्री बनाया जाएगा। यह लक्ष्य चंडीगढ़ कमीशन फॉर द प्रोटैक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स ने निर्धारित किया है। कमीशन की तरफ से चिल्ड्रन वीक का आयोजन किया जा रहा है। इसके पहले दिन बैन ऑफ  डोमैस्टिक चाइल्ड लेबर विषय पर वर्कशॉप लगाई गई जो डिस्ट्रिक लिगल सर्विस एथोरिटी (डी.एल.एस.ए.) और फैडरेशन ऑफ  सैक्टर वैलफेयर एसोसिएशन चंडीगढ़ के सहयोग से करवाया गया।

मलोया स्थित स्नेहालय में आयोजित इस वर्कशॉप में बाल मजदूरी को रोकने पर विस्तार से चर्चा की गई। इस मौके पर एडिशनल डिस्ट्रिक एंड सैशन जज एंड मैंबर सैक्रेटरी, स्टेट लीगल सविर्स एथोरिटी महावीर सिंह अहलावत मुख्यातिथि थे। उन्होंने कहा कि हमारा फर्ज है कि हर बच्चे को शिक्षित किया जाए ताकि वह बाल मजदूरी की बजाए पढ़ाई करे।

वहीं कमीशन की चेयरपर्सन प्रो. देवी सिरोही ने कहा कि समाज में बाल मजदूरी रोकने को लेकर कार्य और तेज करने होंगे। साथ ही बाल मजदूरी कर रहे बच्चों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा देनी चाहिए। इस मौके पर चीफ  ज्यूडिशियल मैजिस्ट्रेट कम सैक्रेटरी, जिला लीगल सिर्विस अथॉरिटी अमरिंदर शर्र्मा गैस्ट ऑफ ऑनर रहे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You