पाक के लिए भारत को कोस रहा चीन

You Are HereNational
Monday, January 08, 2018-4:26 PM

पेइचिंगः अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान को दी जा रही मदद पर रोकने लगाने का चीन को बहुत बुरा लग रहा है। जहां, एक तरफ चीन ने खुले तौर पर आतंक के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान की भूमिका को अहम बताया था वहीं  उसकी सरकारी मीडिया अमरीका द्वारा की इस कटौती के लिए भारत को जिम्मेदार मान कर कोस रहा है। चीनी मीडिया ने भारत को सिर्फ खुद का फायदा सोचने वाला देश बताया है और पड़ोसियों की भलाई के बारे में सोचने की सलाह दी है।

ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय के मुताबिक, पेइचिंग में स्पष्ट तौर पर माना जाता है कि भारत की हाल में बदली विदेश नीति सिर्फ उसके अपने फायदे के लिए हैं और इससे केवल टकराव बढ़ेगा। यह नीति एक-दूसरे को नीचा दिखाने वाली है।ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में नई दिल्ली से अपनी नीति बदलने और पड़ोसियों के ज्यादा से ज्यादा अच्छा करने के लिए रणनीतिक नीति अपनाने को कहा गया है।
PunjabKesari
बता दें कि नए साल पर अपने पहले ही ट्वीट में  ट्रंप ने पाकिस्तान पर आतंकियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया था। इसके बाद अमरीका की तरफ से दी जा रही सैन्य मदद पर भी रोक लगा दी गई थी। इस स्थिति का हवाला देते हुए, पेइचिंग चाहता है कि इस्लामाबाद को अपना फोकस अब ज्यादा से ज्यादा चीन और रूस पर रखना चाहिए। ट्रंप के ट्वीट के अगले ही दिन पाकिस्तान के सैंट्रल बैंक ने घोषणा की थी कि वह चीन के साथ द्विपक्षीय व्यापार और निवेश के लिए डॉलर की जगह युआन का इस्तेमाल करेगा। 

ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में कहा गया है कि चीन को पाकिस्तान प्रभावी आर्थिक सहायता और सहयोग देना चाहिए। संपादकीय के आखिर में लिखा गया है कि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था का विकास को दक्षिण एशिया में स्थिरता और पूरे क्षेत्रीय विकास के लिए सकारात्मक तौर पर देखना चाहिए। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You