राष्ट्रपति बनते ही कांग्रेस के निशाने में कोविंद, संबोधन पर उठाए सवाल

  • राष्ट्रपति बनते ही कांग्रेस के निशाने में कोविंद, संबोधन पर उठाए सवाल
You Are HereNational
Tuesday, July 25, 2017-6:39 PM

नई दिल्ली: देश के 14वें राष्ट्रपति के रूप में आज शपथ लेने वाले रामनाथ कोविंद के पहले संबोधन पर कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेस का मानना है कि कोविंद ने जवाहर लाल नेहरू का अपमान किया है। मीडिया से बातचीत में कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद ने कहा कि नए राष्ट्रपति ने अपने पहले सम्बोधन में प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी इन नेताओं के नाम तक नहीं लिए, जो दिल को चुभने वाली बात है। वहीं आनंद शर्मा ने कहा कि राष्ट्रपिता गांधी के समकक्ष जनसंघ के नेता दीन दयाल उपाध्याय को नए राष्ट्रपति ने अपने सम्बोधन में खड़ा किया, ये ठीक नहीं है। देश की जनता को अच्छा नहीं लगेगा।

कांगे्रस ने कहा- कोविंद ने नेहरू और इंदिरा का किया अपमान
दरअसल, शपथ ग्रहण के दौरान संसद के सेंट्रल हॉल में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जब भाषण देना शुरू किया तो उन्होंने देश में समानता, स्वतंत्रता और बंधुत्व के मूल मंत्र का जिक्र किया। इसके बाद अपने संघर्ष की कहानी भी बयां की। उन्होंने कहा कि मैं सभी नागरिकों को नमन करता हूं और विश्वास जताता हूं कि उनके भरोसे पर खरा उतरुंगा। कोविंद ने अपने पूरे संबोधन में देश के पहले राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद, राधाकृष्णन, एपीजे अब्दुल कलाम और प्रणब मुखर्जी के अलावा महात्मा गांधी और दीनदयाल उपाध्याय का ही नाम लिया। कांग्रेस ने इस बात पर नाराजगी जताई है कि राष्ट्रपति ने पहले संबोधन में नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी का नाम नहीं लिया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You