राफेल विमान खरीदः कांग्रेस ने पूछा - 526 करोड़ का विमान 1571 करोड़ में खरीदने की क्या मजबूरी

  • राफेल विमान खरीदः कांग्रेस ने पूछा - 526 करोड़ का विमान 1571 करोड़ में खरीदने की क्या मजबूरी
You Are HereNational
Tuesday, November 14, 2017-7:09 PM

नई दिल्लीः राफेल विमान खरीद में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया है। सुरजेवाला का कहना है कि राफेल खरीद में कोई पारदर्शिता नहीं है। उन्होंने दावा किया कि जहाजों की कीमत 526 करोड़ है जबकि सौदा 1571 करोड़ का हुआ है।

रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि 20 अगस्त 2007 में 126 लड़ाकू विमान खरीदने के लिए नोटिस जारी किया गया था। इस डील के लिए दो कंपनियां सामने आईं, जिनमें से राफेल बनाने वाली कंपनी दसॉल्ट का चयन किया गया था। सौदे की यह शर्त थी कि 18 राफेल फ्रांस में बनेंगे और बाकी 108 विमान कंपनी की मदद से भारत मे बनाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने फ्रांस दौरे के दौरान 36 एयरक्राफ्ट सीधे तौर पर फ्रांस से खरीदने की घोषणा कर दी। सुरजेवाला ने सवाल उठाए कि लड़ाकू जहाजों को महंगी कीमत पर क्यों खरीदा गया। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाए कि सरकार हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड के हित को दरकिनार कर निजी कंपनियों को फायदा पहुंचा रही है। 

सुरजेवाला के मुताबिक, मोदी सरकार इस सौदे से राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसके अलावा उन्होंने दसॉल्ट राफेल और रिलायंस के बीच हुए समझौते में प्रक्रियाओं का पालन ना होने का भी आरोप लगाया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You