CBI को उच्च न्यायालय की कड़ी फटकार

  • CBI को उच्च न्यायालय की कड़ी फटकार
You Are HereNational
Friday, December 16, 2016-5:48 PM

मुंबई: बंबई उच्च न्यायालय ने सीबीआई को कड़ी फटकार लगाते हुए आज कहा कि केन्द्रीय ब्यूरो स्कॉटलैंड यार्ड से फारेंसिक रिपोर्ट लाने में असाधारण विलंब कर तर्कवादी नेता नरेन्द्र दाभोलकर हत्याकांड की जांच में ‘‘गड़बड़ी’’ कर रहा है। न्यायमूर्ति एससी धर्माधिकारी और न्यायमूर्ति बीपी कोलाबावाला की खंडपीठ ने आज उस समय नाराजगी जताई जब सीबीआई ने मामले की सुनवाई स्थगित करने का आग्रह करते हुए कहा कि उसे अभी भी ब्रिटेन की फारेंसिक लेबोरेटरी से रिपोर्ट का इंतजार है।

खंडपीठ दाभोलकर और भाकपा नेता गोविंद पानसरे के परिजनों की तरफ से दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी जिसमें अदालत से जांच की निगरानी का आग्रह किया गया है। अदालत ने कहा, ‘‘आप  (सीबीआई) जितना टालेंगे और देर करेंगे उतना ही आरोपियों को फायदा होगा। यह समाज में संदेश देगा कि आप मामले को ले कर गंभीर नहीं हैं और जांच ईमानदारी से नहीं कर रहे हैं।’’

अदालत ने कहा, ‘‘आप बस गड़बड़ी कर रहे हैं। आप की साख दांव पर है। आपको याद रखना चाहिए कि यह विलंब दो मामलों को प्रभावित कर रहा है जो शुरू होने के लिए तैयार है।’’  इससे पहले, सीबीआई ने उच्च न्यायालय के समक्ष दावा किया था कि इसने पानसरे के शरीर और अपराध स्थल से बरामद गोलियां और कारतूस के खोखे स्कॉटलैंड यार्ड को यह निर्धारित करने के लिए भेजे हैं कि क्या दाभोलकर और पानसरे के हत्यारों के बीच कोई संबंध तो नहीं है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You