अमेरिका में नौकरी करने के शौकीन जरूर पढ़ें यह खबर...

  • अमेरिका में नौकरी करने के शौकीन जरूर पढ़ें यह खबर...
You Are HereTop News
Thursday, November 10, 2016-1:29 AM

नई दिल्ली: डेमोक्रेटिक पार्टी को 276-226 से मात देते हुए डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के 45 वें राष्ट्रपति बन गए हैं।  वहीं हिलेरी क्लिंटन को हार का मुंह देखना पड़ा। जीत के लिए 27 राज्‍यों के 270 से ज्‍यादा इलेक्‍टोरल वोट चाहिए थे। भारत अमेरिका के अच्छे संबंधों को ऊंचाई तक ले जाने में ट्रंप अपना योगदान देंगे ऐसी उम्मीद जताई जा रही हैं। भारतीय अमेरिकी वोटरों के रुझान के लिए एच-1बी वीजा पर डोनाल्ड ट्रंप का कार्ड भी एक कारण माना जा रहा है। आइये जानते हैं कि एच-1बी वीजा से जुड़ी बातें।

डोनाल्ड ट्रंप के एच-1बी वीजा के 9 मुख्य बिंदु
1) एच-1बी वीजा के न्‍यूनतम भत्‍ते में इजाफा

इलेक्‍शन कैंप‍ेनिंग के दौरान डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा था कि अगर वह राष्‍ट्रपति चुने जाते हैं तो वह एच-1बी वीजा धारकों के न्‍यूनतम भत्‍ते में इजाफा करेंगे। इससे भारतीय आईटी प्रोफेशनल्‍स के लिए अमेरिका में नौकरी की संभावनाएं कम होने का खतरा है।  

PunjabKesari
2) इन कंपनियों पर लगेगा ज्‍यादा टैक्‍स
डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा था कि वह उन अमेरिकी कंप‍नियों को पर 35 फीसदी टैक्‍स लगाएंगे जो बाहर से एंप्‍लॉयज आउटसोर्स करते हैं।

3) आईबीएम पर ट्रंप ने लगाया था यह आरोप
डोनाल्‍ड ट्रंप ने इसी हफ्ते अमेरिकी टेक्‍नोलॉजी की दिग्‍गज कंपनी आईबीएम पर 500 कामगारों को मिनेपोलिस की एक रैली में भेजने का और उन्‍हें भारत या अन्‍य देशों में नौकरी करने भेजने का आरोप लगाया। 

4) अमेरिकी लोगों के हितों की रक्षा करेंगे 
चुनावों के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिकी लोगों की नौकरियों को वह पहले बचाएंगे। डोनाल्ड का यह वादा ट्रंंप सपोर्टर्स को बहुत पसंद आया। उन्‍होंने कहा कि कंपनियो एच-1बी वीजा वाले कामगारों को कम दाम पर नौकरी दे रही हैं। वह अमेरिकी लोगों के हितों की रक्षा करेंगे।

5) मार्क जुकरबर्ग को लिया था आड़े हाथ
गत वर्ष डोनाल्ड ट्रंप ने फेसबुक सीईओ मार्क जुकरबर्ग पर हमला बोला था। एच-1बी वीजा की मांग को लेकर निशाना साधा था।

6) कानूनन अमेरिका आने वालों का स्वागत करता हूं मैं: ट्रंप
वीजा को लेकर एक  निजी अंग्रेजी चैनल को गत वर्ष (28 अक्टूबर 2015) को दिए इंटरव्यू में कहा था कि वह कानूनी रूप से अमेरिका में आने वाले हर व्यक्ति का स्वागत करता हूं।

7) टैलेंट में मदद करेगा एच-1बी वीजा
वॉल स्‍ट्रीट जर्नल में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, ट्रंप ने कहा था कि एच-1बी वीजा अमेरिका और विदेशों से टैैलंटेड लोगों को लाने में मददगार होंगे।
उन्‍होंने कहा कि लोग विदेशों से आकर यहां के बेहतरीन कॉलेज में पढ़ते हैं और फिर कोर्स पूरा होने के बाद देश छोड़ देते हैं। 

8) हम देश में ब्रेनपॉवर चाहते हैं: डोनाल्ड
इसी संदर्भ में उन्होंन आगे कहा कि वे यहां रुकना चाहते हैं लेकिन स्थि‍तियां नहीं है जो उन्‍हें रोक सकें। हम वास्‍तव में होशियार लोग चाहते हैं, हम ब्रेनपॉवर चाहते हैं। हालांकि, बाद में उन्‍होंने कहा कि वह अपने रुख में नरमी लाएंगे। 

9) अमेरिकी फस्र्ट 
प्रवास नीति पर ट्रंप का नजरिया है कि नौकरियों, भत्‍तों और नागरिकों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखा जाए। उनका मानना है कि सबसे पहले अमेरिकियों के ओपन जॉब ऑफर करनी चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You