अगवा भारतीयों के जीवित या मृत होने का कोई सबूत नहींःईराक

  • अगवा भारतीयों के जीवित या मृत होने का कोई सबूत नहींःईराक
You Are HereNational
Tuesday, July 25, 2017-3:28 PM

बगदादः ईराक ने आज कहा कि उसके पास इस बात के कोई ‘पुख्ता सबूत’ नहीं हैं कि तीन साल पहले मोसुल में अगवा किए गए 39 भारतीय जीवित हैं या उनकी मृत्यु हो चुकी है। बहरहाल, ईराक ने इस बात की पुष्टि की है कि आतंकवादी संगठन आईएसआईएस ने उस बदुश जेल को नेस्तनाबूद कर दिया, जहां आखिरी बार इन 39 भारतीयों के होने की सूचना मिली थी।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह की इराक यात्रा के दौरान जुटाई गई सूचनाओं के आधार पर 16 जुलाई को बयान दिया था कि अगवा किए गए भारतीय उत्तर-पश्चिम मोसुल में स्थित बदुश जेल में बंद हो सकते हैं।

ईराकी विदेश मंत्री इब्राहिम अल-जाफरी ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि ‘आईएसआईएस ने बदुश जेल पर नियंत्रण कर लिया था । हमारे पास इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि  अगवा भारतीय जिंदा हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि सिंह की ओर से दी गई यह जानकारी बदुश जेल के तबाह होने से पहले इकट्ठा की गई सूचनाओं पर आधारित थी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You