राजस्थानः पकड़ा गया फर्जी बाबाओं का गिरोह, मोबाइल में मिली अश्लील फिल्में

  • राजस्थानः पकड़ा गया फर्जी बाबाओं का गिरोह, मोबाइल में मिली अश्लील फिल्में
You Are HereNational
Wednesday, September 20, 2017-10:44 PM

बाड़मेरः धर्म के नाम पर पाखण्ड करने वाले फर्जी बाबाओं के बारे में नित नए खुलासे हो रहे हैं। ताजा मामला राजस्थान के बाड़मेर जिले का है, जहां पुलिस ने ऐसे ही शातिर बाबाओं के एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। पकड़े गए बाबाओं के मोबाइल में पोर्न वीडियो भी मिले हैं। मामला बाडमेर जिले के बालोतरा कस्बे का है। जहां पुलिस के हत्थे एक ऐसा गिरोह चढ़ गया, जो भगवा पहनकर लोगों को धोखा दे रहा था। पचपदरा पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर पहले एक फर्जी बाबा को हिरासत में लिया। जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपनी पूरी गैंग का सिलसिलेवार वर्णन कर डाला।

सबसे पहले पकड़े में आए इस फर्जी साधु की पहचान चरणदास उर्फ चरणसिंह के रूप में हुई, जो भगवा पहन कर लोगों को चूना लगाता था। जब पुलिस ने इस ढोंगी के मोबाइल फोन की जांच की तो इसका दूसरा रूप भी सामने आ गया। मोबाइल के ब्राउजर में पोर्न फिल्मों की सर्चिंग थी। कुछ वीडियो तो ऐसे थे, जिनमें ये बाबा के रूप में कई पुलिस अधिकारियों को आर्शीवाद देता दिखाई दे रहा है। 

जब आरोपी चरणदास उर्फ़ चरणसिंह से कड़ाई से पूछताछ की गई तो इसने बताया कि उसके इस काम में 15 से 20 लोग शामिल हैं, जो भरतपुर जिले के सीकरी क्षेत्र के रहने वाले हैं। उसने पुलिस को बताया कि उसके गिरोह के लोग जगह-जगह घूमकर लोगों आस्था के नाम पर सामग्री बेचते हैं और टोना टोटका करने की आड़ में लोगों से पैसे ऐंठते हैं। 

उसने बताया कि उनके झांसे में कई अधिकारी और पुलिस अधिकारी भी आ चुके हैं। उनके गिरोह के लोग अधिकारियों के सर्टिफिकेट और उनके साथ तस्वीरें खींचाकर अन्य लोगों को अपने प्रभाव में लेते थे। पुलिस ने चरणदास की निशानदेही पर ही गिरोह के 5 अन्य फर्जी बाबाओं को गिरफ्तार किया है।

थानाधिकारी देवेन्द्र कविया ने बताया कि चरणदास की निशानदेही पर पूरे गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। ये भगवा के वेश में धर्म और आस्था का झांसा देकर ठगी करते थे। अब इन लोगों से इनके बाकी साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You