GMCH-32 कर्मियों ने की हड़ताल, मरीज बेहाल

  • GMCH-32 कर्मियों ने की हड़ताल, मरीज बेहाल
You Are HereChandigarh
Monday, November 21, 2016-10:11 PM

चंडीगढ़ (रवि): सोमवार को जी.एम.सी.एच. सैक्टर-32 अस्पताल के सफाई कर्मियों और सिक्योरिटी कर्मचारियों ने दिवाली बोनस न मिलने की वजह से हड़ताल कर दी। सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक करीब 350 कर्मचारियों ने एमरजैंसी के बाहर जमकर नारेबाजी की। सफाई कर्मचारियों के प्रधान ओम कैलाश ने बताया कि वीरवार को उन्होंने अस्पताल प्रशासन को लिखित में शिकायत भी दी थी लेकिन उसके बावजूद किसी अधिकारी ने उनसे बाद बात तक नहीं कि जिसकी वजह से उन्हें हड़ताल करनी पड़ी।

सिक्योरिटी कर्मचारियों के प्रधान जगजीत सिंह व उप प्रधान सुरिंद्र सिंह ने बताया कि दिवाली पर कॉन्ट्रैक्टर पर काम कर रहे सभी कर्मचारियों को भारत सरकार की गाइडलाइन्स के मुताबिक 7 हजार रुपए बोनस मिलना था, जिसमें से 3500 सौ रुपए ठेकेदार को देने थे जबकि आधे अस्पताल प्रशासन को।

उन्होंने बताया कि ठेकेदार ने तो उन्हें रुपए दे दिए लेकिन अस्पताल की ओर से उन्हें अब तक कुछ नहीं मिला है जबकि उन्हें भरोसा दिया गया था कि दिवाली के एक हफ्ते बाद उन्हें मिल जाएगा। ओम कैलाश ने बताया कि अस्पताल प्रशासन से उनकी बात हुई है और उन्हें भरोसा दिया गया है कि एक हफ्ते में उनकी परेशानियां दूर कर दी जाएगी। साथ ही कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर उनका बोनस एक अगले हफ्ते तक नहीं मिला तो वह 29 नवम्बर को दोबारा हड़ताल करेंगे।

हैपेटाइटिस बी के इंजैक्शन लगाने की भी मांग

सफाई कर्मियों के प्रधान ओम कैलाश ने बोनस के साथ ही उन्होंने सफाई कर्मचारियों के लिए हैपेटाइटिस बी के इंजैक्शन लगाने की भी मांग भी की है। वर्ष 2007 में उन्हें पूर्व डायरैक्टर के कार्यकाल के दौरान इंफैक्षन के बचने के लिए टीके लगाए गए थे लेकिन इन 9 वर्षों में उन्हें कोई टीका नहीं लगाया गया है जिसकी वजह से कई कर्मियों की मौत भी हो चुकी है। 

25 अक्तूबर को की थी हड़ताल

इससे पहले 25 अक्तूबर को कांट्रैक्ट पर कार्यरत सफाईकर्मी,अटैंडेंट्स, पैरामैडीकल और सिक्योरिटी स्टाफ ने बोनस की मांग को लेकर हड़ताल की थी। उस वक्त भी 1500 कर्मियों को भरोसा दिया गया था कि दो दिनों के अंदर सभी को पुरा बोनस दे दिया जाएगा।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You