अब पाकिस्तानी गोलीबारी से प्रभावित नहीं होगी सीमावर्ती गांवों के बच्चों की पढ़ाई , सरकार उठाएगी यह कदम

  • अब पाकिस्तानी गोलीबारी से प्रभावित नहीं होगी सीमावर्ती गांवों के बच्चों की पढ़ाई , सरकार उठाएगी यह कदम
You Are HereNational
Friday, November 24, 2017-4:56 PM

साम्बा : पाकिस्तान की गोलियों से सीमावर्ती गांव प्रभावित बच्चों की अब पढ़ाई खराब नहीं होगी, क्योंकि केंद्र सरकार जल्द ही हर जिला के सीमावर्ती क्षेत्र में केंद्रीय विद्यालय यां जवाहर नवोद्यय स्कूल खोलने जा रही है। यह जानकारी सीमा जन कल्याण समीति के सदस्यों ने साम्बा में पत्रकार को बताई। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के केंदीय मानव संसाधन विकास मत्रालय द्वारा इसकी जानकारी उन्हें उपलब्ध करवाई गई है और उनकी सभी मांगों को मान लिया गया है। केंद्र सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जम्मू कश्मीर के हर सीमावर्ती जिलों के लिए शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु एक-एक केंद्रीय विधालय और एक-एक जवाहर नवोदय विधालय खोलने की घोषणा की है जिससे जिला साम्बा के लोगों में ख़ुशी है और लोगों ने इसका स्वागत किया है ।


सीमा जन कल्याण समिति द्वारा साम्बा में एक पत्रकार वार्ता कर मंत्रालय और केंद्र सरकार का शुक्रिया अता करते हुए कहा कि हमारी पिछले कई सालो से यह मांग रही है कि पाकिस्तान की गोलीबारी से अक्सर बच्चो की पढ़ाई पर खासा असर पड़ता है जिससे हमारे बच्चे शहरों के बच्चो से मुकाबला करने में पीछे रह जाते है। पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए समिति के प्रवक्ता गोपाल शर्मा ने बताया कि आये दिन गोलीबारी के कारण सीमा पर रहने वालो को काफी दिक्कत आती है उनकी फसल खेत में ही रह जाती है, माकन क्षतिग्रस्त हो जाते हैं, जान माल का काफी नुक्सान होता है। बच्चे अपनी पढ़ाई पूरी तरह से नहीं कर पाते हैं। ऐसे में स्कूल खोलने के इस फैंसले का हम स्वागत करते हैं ताकि हमारे बच्चो का भविष्य खराब होने से बच जाये।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You