गुजरात चुनाव: ‘पाक कनेक्शन’ पर चौतरफा घिरे मोदी

  • गुजरात चुनाव: ‘पाक कनेक्शन’ पर चौतरफा घिरे मोदी
You Are HereNational
Tuesday, December 12, 2017-1:32 AM

नई दिल्ली: गुजरात में पहले दौर के मतदान के बाद दूसरे चरण के लिए सियासी हवा बनाने की कवायद अब अंतिम दौर में है। भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ माहौल बनाने के लिए जो पाकिस्तान कार्ड खेला है उसी के चलते मोदी अब चौतरफा घिर गए हैं। 

पाक के उनके राग पर न केवल कांग्रेस बल्कि पाकिस्तानी राजदूत के साथ ही उनकी अपनी पार्टी के नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने भी उनकी आलोचना की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दूसरे चरण के चुनावी प्रचार में बनासकांठा के पालनपुर में चुनावी सभा में आरोप लगाया कि गुजरात चुनाव के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सीमापार से मदद ले रहे हैं। 

वहीं वित्त मंत्री अरुण जेतली ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह एवं अन्य कांग्रेसी नेताओं की पाकिस्तानी राजनयिकों के साथ बैठक को दुर्भाग्य बताया। वित्त मंत्री ने मनमोहन से पूछा कि पहले आप बताइए बैठक की बात आपने क्यों छुपाई। वह बताएं कि कांग्रेसी नेताओं की पाकिस्तानी राजनयिकों के साथ बैठक में क्या बात हुई। उन्होंने साफ किया कि आतंक के साथ पाकिस्तान से बात नहीं होगी। इससे पहले आज पूर्व पी.एम. मनमोहन सिंह ने बैठक को लेकर पी.एम. मोदी द्वारा की गई टिप्पणी पर माफी मांगने की अपील की। 

विपक्ष की प्रधानमंत्री से माफी मांगने की मांग को खारिज करते हुए जेतली ने कहा कि जिन लोगों ने ‘आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकता’ की राष्ट्रीय नीति का उल्लंघन किया है उन्हें माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस सरकार का आतंकवाद से लडऩे का जो रिकार्ड रहा है वह पिछली किसी भी सरकार का नहीं रहा है। गौरतलब है कि कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के घर पाकिस्तानी उच्यायुक्त और वहां के पूर्व विदेश मंत्री के साथ मुलाकात पर पी.एम. मोदी की तरफ से उठाए गए सवाल और उसे गुजरात चुनाव से जोडऩे पर पूर्व प्रधानमंत्री डा. मनमोहन सिंह ने आलोचना की है।

देश से माफी मांगें मोदी: मनमोहन
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गुजरात चुनाव को लेकर पाकिस्तान के साथ मिलकर साजिश रचने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोपों को बेबुनियाद करार देते हुए आज कहा कि वह राजनीतिक लाभ के लिए गलत बातें कह रहे हैं और प्रधानमंत्री तथा सेना प्रमुख जैसे संवैधानिक पदों की प्रतिष्ठा को ध्वस्त करके खतरनाक चलन शुरू कर रहे हैं। डा. सिंह ने कहा कि श्री मोदी के झूठे आरोपों से उन्हें बहुत दुख पहुंचा है और वह क्षुब्ध हैं। अफसोस की बात यह है कि राजनीतिक लाभ लेने के लिए कोई और नहीं बल्कि खुद प्रधानमंत्री गलत आरोपों को प्रचारित कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि गुजरात में अपनी पराजय के भय से प्रधानमंत्री हताशा में अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं और कीचड़ उछाल रहे हैं। यह दुखद और अफसोसजनक हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि श्री मोदी प्रधानमंत्री और सेना प्रमुख समेत संवैधानिक पदों की प्रतिष्ठा ध्वस्त करके गलत चलन शुरू कर रहे हैं। उन्हें ऐसा कर प्रधानमंत्री पद की गरिमा गिराने के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए। 

माहौल को साम्प्रदायिक रंग न दें मोदी: शत्रुघ्न
कांग्रेस नेताओं के पाकिस्तानी उच्चायुक्त के साथ संपर्क होने संबंधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणियों पर तीखी आलोचना करते हुए भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं बॉलीवुड अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने माहौल को साम्प्रदायिक बनाने पर विराम लगाने तथा स्वस्थ राजनीति और स्वस्थ चुनाव की दिशा में वापस लौटने की प्रधानमंत्री से सोमवार को अपील की। 

रवि शंकर का पाक को जवाब- हमें न सिखाओ, हम लोकतंत्र को चलाने में समर्थ
पाकिस्तान की ‘अवांछित’ टिप्पणी पर मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि यह कांग्रेस पार्टी को राहत देने के लिए की गई टिप्पणी लगती है। प्रसाद ने कहा, ‘‘पाक हमें न सिखाए, हम लोकतंत्र को स्वयं चलाने में समर्थ हैं।’’

पूर्व जनरल दीपक कपूर ने माना मणिशंकर के घर पाक उच्चायुक्त संग हुई बैठक
पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल दीपक कपूर ने दावा किया है कि कांग्रेस से निलंबित वरिष्ठ नेता तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर के घर पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी और उच्चायुक्त अब्दुल बासित की मौजूदगी में एक बैठक हुई थी और वह खुद इसमें मौजूद थे। एक अंग्रेजी दैनिक अखबार के अनुसार जनरल कपूर ने उससे बातचीत में दावा किया, ‘‘हां, मैं इस बैठक का हिस्सा था। इस बैठक में भारत-पाकिस्तान संबंधों के अलावा अन्य किसी मुद्दे पर चर्चा नहीं हुई।’’ बी.बी.सी. के अनुसार वरिष्ठ पत्रकार प्रेम शंकर झा ने कहा कि वह भी श्री अय्यर के घर पर हुई इस बैठक में शामिल थे। श्री झा ने भी दावा किया है कि इस बातचीत में गुजरात या अहमद पटेल का जिक्र नहीं हुआ है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You