कश्मीर घाटी में अलगाववादियों ने एक दिसंबर तक बढ़ाई हड़ताल

  • कश्मीर घाटी में अलगाववादियों ने एक दिसंबर तक बढ़ाई हड़ताल
You Are HereJammu Kashmir
Thursday, November 24, 2016-12:51 PM

श्रीनगर : कश्मीर घाटी में सैयद अली शाह गिलानी, मीरवायज उमर फारुक और यासीन मलिक के संयुक्त अलगाववादी नेतृत्व ने आज 25 नवंबर से 01 दिसंबर तक के लिए के लिए नया प्रौटेस्ट कैलेंडर जारी किया। हालांकि, अलगाववादियों ने शनिवार और रविवार दोनो दिनों पर हड़तील में ढील की घोषणा की है। वहीं, बुधवार (30 नवंबर) और गुरुवार (01 दिसंबर) को शाम चार बजे से हड़़ताल में ढील दी गई है।


एक बयान के अनुसार संयुक्त अलगाववादी नेतृत्व ने शुक्रवार (25 नवंबर) को लोगों से जिला स्थर पर आजादी प्रार्थना और जुमा नमाज के बाद शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के लिए कहा गया है। वहीं, सोमवार (28 नवंबर) को तहसील मुख्यालयों पर आजादी रोड़ शो का आयोजन करने के लिए कहा गया है। इसके अलावा मंगलावर (29 नवंबर) को महिलाओं से स्थानीय चौराहों पर कब्जा करके प्रदर्शन करने के लिए कहा गया है। वहीं, बुधवार (30 नवंबर) लोगों से कुपवाड़ा में विलगाम, बारामुला में सिहंपुरा, बांडीपुरा में कुयिलमुकाम, बडग़ाम में रथसुम, गांदरबल में मानसबल, श्रीनगर में सोनवार, पुलवामा में ताहब, शोपियां में पिंजूरा, कुलगाम में बुचरु और अनंतनाग में वेरीनाग की ओर मार्च करने के लिए कहा गया है। गुरुवार (01 दिसंबर) को लोगों से एक दिवसीय आजादी सम्मेलन का आयोजन करने के लिए कहा गया है।


इस बीच अलगाववादियों ने लोगों से सभी दिनों के दौरान प्रदर्शन जारी रखने के लिए कहा गया है। वहीं, लोगों से रात के दौरान इलाकों को लॉकडाउन करने के लिए कहा गया है ताकि युवकों को गिरफ्तारियों से बचाया जा सके। इसके अलावा लोगों से शाम की मगरिब नमाज से ईशा नमाज तक मस्जिदों में आजादी समर्थक तरानों को चलाने की भी अपील की गई है। इसके अलावा लोगों से प्रौटेस्ट कैलेंडर के पोस्टरों को सभी मस्जिदों, बाजारों, मोहल्लों व आसपास चिपकाने के लिए भी कहा गया है। साथ ही हड़ताल में ढील के दौरान सार्वजनिक और निजी वाहनों के साथ -साथ कारखानों और अन्य उद्यौगिक इकाईयों को भी राहत दी गई है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You