नोटबंदी के चलते प्रशासन के हैल्पलाइन नंबर पर आई 400 कॉल्स, लोगों ने बयां किए अपने दर्द

  • नोटबंदी के चलते प्रशासन के हैल्पलाइन नंबर पर आई 400 कॉल्स, लोगों ने बयां किए अपने दर्द
You Are HereChandigarh
Wednesday, November 16, 2016-9:14 AM

चंडीगढ़(विजय) : बैंक के बाहर दो दिन से खड़ा हूं। सरकार तो बोल रही थी कि परेशानी कुछ दिनों की है लेकिन यहां तो रोजाना लाइन लंबी होती जा रही है। आखिर कब इस मुसीबत से छुटकारा मिल पाएगा? यह एक ऐसा सवाल था जिसने केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोट पर लगाए गए प्रतिबंध के साइड इफैक्ट को बयां कर दिया। सरकार के फैसले से शहर के लोग किस कदर परेशान है इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि 24 घंटे पहले चंडीगढ़ प्रशासन ने जो हेल्प लाइन नंबर जारी किया था उसमें मंगलवार को पूरा दिन शिकायत दर्ज करवाने का सिलसिला जारी रहा। 1860-180-2067 हैल्पलाइन नंबर पर मंगलवार को लगभग 400 कॉल्स रजिस्टर्ड की गई। लोगों ने पूछा कि किन ए.टी.एम. में कैश इस समय मौजूद है? बैंक में कैश नहीं है ऐसे में वह क्या करें? एक दिन में कितनी राशि विड्रॉ की जा सकती है? और एक दिन में कितनी करंसी बदली जा सकती है? केवल ये नहीं बल्कि इसी तरह के कई सवाल लोगों द्वारा पूछे गए। सबसे अधिक जानकारी लोगों द्वारा ए.टी.एम. में कैश होने संबंधित मांगी जा रही थी। प्रशासन ने सोमवार को यह हैल्पलाइन नंबर जारी किया था।

 

तीन घंटे तक खड़ा होना पड़ रहा है कतार में :
कॉल सैंटर के स्टाफ ने बताया कि लोगों को सबसे अधिक परेशानी बैंक और ए.टी.एम. के बाहर लगी लंबी कतारों से हो रही है। कुछ लोग तो यह भी शिकायत कर रहे हैं कि उन्हें लाइन में खड़े हुए तीन घंटे से अधिक का समय हो चुका है मगर फिर भी वह अपना पैसा नहीं बदलवा पाए। यही नहीं, जब घंटों इंतजार के बाद बैंक के गेट बंद हो जाते हैं तो उस समय लोगों का गुस्सा सबसे अधिक फूटता है। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You