जानिए क्यों यह अंधा व्यक्ति खुद ही स्ट्रेचर पर लेकर गया अपनी पत्नी को

  • जानिए क्यों यह अंधा व्यक्ति खुद ही स्ट्रेचर पर लेकर गया अपनी पत्नी को
You Are HereNational
Tuesday, December 06, 2016-7:04 PM

हैदराबाद : राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे उस्मानिया जनरल अस्पताल में कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की लापरवाही और भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। जिसमें एक गरीब अंधे आदमी को स्ट्रेचर या वील चेयर की सुविधा देने से इनकार कर दिया गया क्योंकि वह रिश्वत नहीं दे सकता था।

मामला एक अंधे व्यक्ति मोहम्मद नसीरुद्दीन का है। उसकी पत्नी टीबी की बिमारी से ग्रस्त है। वह अस्पताल के बाहर अढ़ाई घंटे तक मदद की गुहार लगाते रहे लेकिन वार्ड बॉय ने उनकी कोई मदद नहीं की। वह खुद ही अपनी पत्नी को स्ट्रेचर पर अस्पताल के अंदर लेकर गया और उसकी 5 साल की बच्ची उसे रास्ता बता रही थी। नसीरुद्दीन ने कहा कि मेरे पास रिश्वत देने के लिए रुपए नहीं थे। इसलिए वार्ड बॉय ने उसकी मदद नहीं की। वार्ड बॉय की इस लापरवाही से किसी की जान भी जा सकती थी। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You