कॉरपोरेट लॉयर है ये हिंदुस्तानी 'चायवाली', ऑस्ट्रेलिया के लोग भी हैं इनकी चाय के दीवाने

You Are HereAustralia
Friday, November 04, 2016-4:22 PM

नई दिल्ली: सोशल मीडिया के जरिए आप पाकिस्तान के नीली आंखों वाले 'चायवाले' और नेपाल की 'तरकारीवाली' खूबसूरत नेपाली लड़की को देख चुके हैं तो अब इंडियन 'चायवाली' से मिलिए, जिसके ऑस्ट्रेलिया में काफी लोग फैन हैं।  भारत की इस ‘चायवाली’ का नाम है उपमा विर्दी है। बता दें कि इस चायवाली को ऑस्ट्रेलिया ने साल 2016 का बिजनेस वूमन ऑफ द इयर से नवाजा है। 26 साल की उप्पमा विर्दी एक कॉरपोरेट लॉयर हैं लेकिन उनके चाय बनाने के तरीके के सभी मुरीद हैं। इसी कला ने उन्हें फेमस बना दिया है। ऑस्ट्रेलिया में कॉफी पसंद करने वालों को उपमा ने भारतीय मसाला चाय का चस्का लगा दिया है।

उपमा चंडीगढ़ से है लेकिन बाद में वह वकालत की पढ़ाई करने ऑस्ट्रेलिया चली गई। इसी दौरान उसने वहां चाय का बिजनेस शुरू किया। उपमा बताती है कि उनके दादा देसी दवाएं बेचते थे। अफने दादा से ही उपमा ने आयुर्वेदिक चाय कैसे बनाते हैं और इसके फायदे क्या इसके बारे में बताते रहते थे। बकौल उपमा ऑस्ट्रेलिया में ऐसी बहुत कम जगह है जहां अच्छी चाय मिलती है इसलिए उसने चाय का बिजनैस शुरू करने की सोची। फिलहाल उपमा फेमस रिटेल वेंचर चला रही हैं जिसका नाम है चायवाली। यह एक ऑनलाइन हॉलसेल शॉप है। हालांकि उपमा ने कॉरपोरेट लॉयर वाला अपना काम बंद नहीं किया है लेकिन चाय को सभी लोगों तक पहुंचाने को लेकर उपमा को काफी मशहूर बना दिया है।

माता-पिता को थी इससे आपत्ति
विर्दी बताती हैं जब उसने यह काम शुरू किया तो उनके माता-पिता चायवाली शब्द से काफि चिंतित हुए क्योंकि भारत में इस काम को कमतर समझा जाता है। विर्दी बताती है कि उनके माता-पिता को इस बात पर काफि आपत्ति भी थी। विर्दी कहती हैं कि भारत में हर चाय वाला एक उद्यमी की तरह है क्योंकि उनके अंदर एक बिजनेस स्पीरिट होता है।

बता दें कि कुछ दिन पहले पाकिस्तानी ‘चायवाले’ अरशद खान ने अपनी नीली आंखों के कारण लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा था। इतना ही नहीं अरशद इतना वायरल हुआ कि उसे मॉडलिंग तक के ऑफर मिले।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You