चीन से तनातनी और बढ़ी: सरकार ने आज बुलाई सर्वदलीय बैठक, हालात पर होगी चर्चा

  • चीन से तनातनी और बढ़ी: सरकार ने आज बुलाई सर्वदलीय बैठक, हालात पर होगी चर्चा
You Are HereNational
Friday, July 14, 2017-7:51 AM

नई दिल्ली: भारत-चीन के बीच सीमा पर बढ़ते तनाव के बीच केंद्र सरकार ने आज सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इस बैठक में चीन के साथ संबंधों को लेकर सभी दलों के बीच चर्चा की जाएगी। इस दौरान सरकार सीमा पर हालात को लेकर सभी दलों को अवगत कराएगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर यह बैठक होगी। केंद्रीय गृहमंत्री के घर पर होने वाली इस बैठक में हालात के बारे में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज जानकारी देंगी।

बैठक का आयोजन 14 जुलाई की शाम 4 से 5 बजे के बीच होगा। कई राजनीतिक दलों को इस बारे में जानकारी दे दी गई है। जानकारी के मुताबिक सभी दलों को स्थिति से अवगत करवाने की सलाह प्रधानमंत्री मोदी ने दी जिसके बाद सभी नेताओं को आमंत्रित किया गया। इसके पीछे शायद मोदी की यही सोच है कि मानसून सत्र शुरू होने से पहले विपक्ष का सामना कर उसके आक्रोश को कुछ हद तक कम किया जा सके ताकि सत्र सुचारू रूप से चल सके। वहीं बैठक में जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार रात आतंकवादियों द्वारा अमरनाथ यात्रियों की बस पर हमले, वहां की राज्य सरकार के प्रति कश्मीरियों का आक्रोश, घाटी में बढ़ रहे हिंसक प्रदर्शनों व अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा का मुद्दा भी उठने के आसार हैं।

विपक्ष के तेवर गर्म रहने की उम्मीद
उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक में कांग्रेस समेत विपक्ष के तेवर काफी गर्म रहेंगे। लगभग विपक्ष के सभी नेताओं ने चीन और कश्मीर के मसले पर सरकार की नालायकी पर जमकर हमला बोला था इसलिए इस बैठक में सरकार को विपक्ष के तीखे विरोध का सामना करना पड़ेगा।

मसले के हल के लिए हो रहे कूटनीतिक प्रयास
चीन ने भले ही भारतीय सेना के पीछे हटने की शर्त रखी हो लेकिन भारत का कहना है कि इस विवाद को सुलझाने के लिए डिप्लोमैटिक चैनलों का इस्तेमाल किया जा रहा है। चीन के साथ रिश्ते में तनाव के बारे में पूछे जाने पर यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने गुरुवार को कहा कि हाल में जर्मनी के हैम्बर्ग में जी-20 बैठक के दौरान ब्रिक्स देशों के नेताओं की अलग से अनौपचारिक मुलाकात हुई। इसके बाद दोनों देश डोकलाम के मुद्दे पर डिप्लोमैटिक चैनल का इस्तेमाल कर रहे हैं और यह आगे भी जारी रहेगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You