कांग्रेस का आरोप, ISI-भाजपा संबंधों की हो जांच

  • कांग्रेस का आरोप, ISI-भाजपा संबंधों की हो जांच
You Are HereNational
Friday, February 17, 2017-7:21 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस ने भाजपा पर पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ संबंध होने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि देश की सुरक्षा के लिए यह चिंताजनक स्थिति है और उच्चतम न्यायालय की निगरानी में केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) से इसकी जांच होनी चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आंतरिक सुरक्षा के मामले से समझौता नहीं किया जा सकता लेकिन पिछले सप्ताह जम्मू-कश्मीर के आरएसपुरा से पकड़े गए 11 आतंकवादियों ने जो खुलासा किया वह चौंकाने वाला है।

उन्होंने कहा कि आतंकवाद निरोधक दस्ते द्वारा पकड़े गए इन आतंकवादियों ने जो जानकारी दी वह चौंकाने वाली है। आतंकवादियों ने खुलासा किया है कि सेना की आवाजाही के बारे में उन्हें आतंरिक सूचना मध्य प्रदेश से मिलती थी। उन्होंने कहा कि जो आतंकवादी पकड़े गए हैं उनके कब्जे से कई लैपटॉप के अलावा 50 मोबाइल फोन, 3000 सिम कार्ड तथा 50 सिम बॉक्स मिले हैं। आतंकवादी देशभर में अपना नेटवर्क चला रहे थे जिनके जरिए आईएसआई को सेना की आवाजाही की जानकारी तथा उसके शिविरों के फोटोग्राफ मिल रहे थे। खुलासा यह भी हुआ है कि आतंवादियों का यह सिस्टम देशव्यापी है और खुफिया जानकारी देने के लिए चार बड़े शहरों में उसके कम से कम 30 टेलीफोन एक्सचेंज काम करते हैं।  

प्रवक्ता ने कहा कि यह ङ्क्षचता की बात है कि देश के सबसे बड़े दल से जुड़े लोगों के संबंध आतंकवादियों से हैं। उनका आरोप था कि पकड़े गए 11 आतंकवादियों में से तीन का सीधा संबंध भाजपा से है। उन्होंने नाम लेकर कहा कि इनमें एक ध्रुव सक्सेना है, जो भाजपा युवा मोर्चा का सदस्य और पार्टी की आईटी सेल का संयोजक है। दूसरा जीतेन्द्र सिंह है जो भाजपा के एक पार्षद का नजदीकी रिश्तेदार है जबकि तीसरा बलराम सिंह बजरंग दल का सदस्य है और जासूसी गिरोह का मास्टर माइंड है जबिक चौथा आशीष सिंह राठौर है और वह विश्व हिंदू परिषद् का कार्यकर्ता है।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You