डिजिटल इंडिया के दौर में भी मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे लोग

  • डिजिटल इंडिया के दौर में भी मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे लोग
You Are HereNational
Wednesday, November 15, 2017-1:27 PM

जम्मू: एक तरफ हम डिजिटल भारत की बात कर रहे हैं तो दूसरी तरफ आधुनिक भारत के कई गांव ऐसे हैं जो आज भी पिछड़े हुए हैं। ऐसा ही गांव रियासी जिले के अंतर्गत आती पंचायत संगड़ है। यह क्षेत्र शिवखोड़ी के समीप है। क्षेत्र में सुविधा नाम की कोई चीज नहीं है। गौरतलब है कि सरकार दृारा स्कूल बनाए गए हैं  परंतु स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने वाले अध्यापकों की कमी है। सिर्फ यही नहीं बल्कि बिजली पानी जैसी सुविधाओं का भी टोटा है। पानी की समस्या इतनी विकराल है कि बच्चों का पूरा दिन पानी ढोने में बीत जाता है।


 स्थानीय लोगों का कहना है कि प्रशासन व सरकार को कई बार समस्याओं के बारे में अवगत करवाया है  लेकिन समस्याओं का आज तक हल नहीं हो पाया है।  गरीब लोग परेशान हो रहे हैं। बच्चों को अच्छी पढ़ाई नहीं मिल पा रही है और उनका आने वाला समय भी बर्वाद हो रहा है। संगड़ पंचायत रियासी के टॉप हीली इलाके में से एक है। यह काफी दूरदराजी इलाका है। आजादी के कई बर्ष बीत जाने पर भी मूलभूत सुविधाओं का इस क्षेत्र में कोई नामो निशान नहीं है।

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You