मौत का कुआं बना व्यापमं घोटला, एक और आरोपी ने की आत्महत्या

  • मौत का कुआं बना व्यापमं घोटला, एक और आरोपी ने की आत्महत्या
You Are HereNational
Wednesday, July 26, 2017-12:57 PM

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश के सबसे बड़े और बहुचर्चित व्यापक घोटाले जुड़े लोगों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस घोटाले के आरोपी और मध्य प्रदेश के मुरैना के रहने वाले प्रवीण यादव ने खुदकुशी कर ली है। 


माता-पिता का इकलौता बेटा था प्रवीण
इस मामले में प्रवीण लगातार जबलपुर हाईकोर्ट में पेशी पर जाता था। सीबीआई ने भी उससे पूछताछ की थी। उसने सीबीआई के समक्ष बयान भी दर्ज किया था। परिजनों का आरोप है कि प्रवीण मानसिक रूप से प्रताडि़त महसूस कर रहा था. वह पिछले काफी दिनों से गुमसुम रहता था और किसी से ज्यादा बात नहीं करता। कोई रोजगार और व्यवसाय का साधन नहीं होने की वजह से भी उसके डिप्रेशन में होने की बात सामने आ रही है। प्रवीण अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था।

घोटाले में करीब 3000 लोग बनाए गए हैं आरोपी 
आपको बतां दे कि व्यापम घोटाले में 50 से अधिक एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं, और दर्जनों लोगों की जानें भी जा चुकी हैं। घोटाले में करीब 3000 लोग आरोपी बनाए गए हैं। इनमें छात्र, मां-बाप, राजनेता, बिजनेसमैन और दलाल टाइप के उच्च कोटी के लोग शामिल हैं। करीब 1700 गिरफ्फ्फ्तार हुए हैं, जिनमें से कुछ जमानत पर हैं तो कुछ जेल में हैं। वहीं करीब 500 लोग फरार बताए जा रहे हैं।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You