Subscribe Now!

फर्जी बाबाओं की सूची बनाने वाले महंत मोहन दास ट्रेन से हुए लापता

  • फर्जी बाबाओं की सूची बनाने वाले महंत मोहन दास ट्रेन से हुए लापता
You Are HereNational
Monday, September 18, 2017-11:34 PM

भोपाल: फर्जी बाबाओं की सूची जारी करने वाली अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद प्रवक्ता और उदासी अखाड़ा के महंत मोहन दास ट्रेन से अचानकर गायब हो गए हैं। वे हरिद्वार से कल्याण (मुम्बई) की यात्रा के दौरान रास्ते में लापता हो गए हैं। उनके मोबाइल की अंतिम लोकेशन रविवार शाम को मेरठ में मिली थी लेकिन उसके बाद से उनका कोई पता नहीं चल पा रहा है। 

भोपाल जीआरपी की एसपी अनीता मालवीय ने सोमवार को बताया कि महंत मोहन दास हरिद्वार-लोकमान्य तिलक टर्मिनल गाड़ी क्रमांक 12172 के ए-वन कोच में यात्रा कर रहे थे। वे निजामुद्दीन स्टेशन पर उतरे थे। उसके बाद उन्हें किसी भी यात्री व अटेंडेंट ने नहीं देखा।' 

रेलवे पुलिस के मुताबिक, गाड़ी नौ घंटे की देरी से चल रही थी और शनिवार रात साढ़े सात बजे भोपाल पहुंची। उनका एक सेवादार भोजन देने गाड़ी पर आया तो महंत नहीं मिले। उसने इसकी सूचना अन्य लोगों को दी। एसपी मालवीय ने बताया कि जब उन्हें सूचना मिली तब तक गाड़ी भुसावल स्टेशन तक पहुंच चुकी थी। भुसावल जीआरपी ने संबंधित कोच ए-वन की सीट 22 पर जाकर देखा तो वहां कुछ सामान रखा हुआ था। 

जीआरपी एसपी ने बताया कि महंत के मोबाइल फोन की अंतिम लोकेशन रविवार देर शाम को मेरठ में मिली थी। इंदौर के डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्रा ने बताया कि ऐसी अफवाह थी कि महंत मोहनदास इंदौर में हैं। इस आधार पर पुलिस ने उनके आश्रम सहित अन्य स्थानों पर पता किया लेकिन उनका कोई सुराग नहीं लगा। 

महंत मोहनदास जिस डिब्बे में यात्रा कर रहे थे, उसकी सवारियों ने भी भुसावल जीआरपी को बताया कि वे निजामुद्दीन स्टेशन के बाद कोच में नहीं आए। उनका सामान वहीं रखा रहा। महंत के लापता होने की बात तब सामने आई जब गाड़ी रविवार को कल्याण रेलवे स्टेशन पहुंची और उनकी अगवानी के लिए आए लोगों को महंत नहीं मिले।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You