महाराष्ट्र: बंदूक लेकर तेंदुए के शिकार पर निकले मंत्री(Pics)

  • महाराष्ट्र: बंदूक लेकर तेंदुए के शिकार पर निकले मंत्री(Pics)
You Are HereNational
Tuesday, November 28, 2017-7:21 PM

मुंबई: महाराष्ट्र के मंत्री गिरीश महाजन के एक तेंदुए की तलाश में कथित रूप से बंदूक लेकर निकलने पर विवाद शुरू हो गया है। उस तेंदुए ने जलगांव जिले में एक महिला की जान ली जिसे तलाशने के लिए मंत्री जी दल के साथ निकल गए। वीडियो वायरल होने के बाद मंत्री ने कहा कि उनका इरादा तेंदुए को नुकसान पहुंचाना नहीं था केवल डराना था। PunjabKesari

जानकारी के अनुसार महाजन सोमवार को जलगांव जिले के चालीसगांव तहसील स्थित दीपाली जगताप के घर गए थे, जिसकी तेंदुए ने जान ले ली थी। जब भाजपा नेता परिवार के साथ संवेदना जताने के बाद लौट रहे थे तब उन्हें पता चला कि वारखेड़े गांव के नवेगांव इलाके के पास एक तेंदुआ देखा गया है। वीडियो में राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री कथित रूप से बंदूक के साथ जानवर की तलाश करते दिख रहे हैं। मंत्री ने कहा कि तेंदुआ उनके काफिले से करीब 400 फुट दूर देखा गया था और वह वहां वन विभाग के अधिकारियों और पुलिसकर्मियों के साथ गए थे। उन्होंने विवाद पर कहा कि मैं तेंदुए को मारने के मकसद से नहीं गया बल्कि जरूरत पडऩे पर केवल हवा में गोली चलाता। मैं जो बंदूक लेकर गया था, मेरे पास उसका लाइसेंस है। हालांकि दल तेंदुए को ढूंढ नहीं पाया। 
PunjabKesari
महाजन ने कहा कि हमें बताया गया कि वन मंत्री सुधीर मुंगंतीवार ने लोगों की जान लेने वाले इस जानवर को देखते ही गोली मारने की मंजूरी दी है। तेंदुए ने पिछले डेढ़ महीने में जिले में पांच लोगों की जान ली है। इस बीच राकांपा के प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि महाजन को बर्खास्त करना चाहिए और वन एवं वन्यजीव कानूनों के कथित उल्लंघन के लिए उनपर मामला दर्ज किया जाना चाहिए। शिक्षा मंत्री पूर्व में भी बंदूक रखने को लेकर विवाद को हवा दे चुके हैं। 2015 में वह एक स्कूल के समारोह में बंदूक के साथ नजर आए थे। बाद में उन्होंने सफाई दी थी कि वह अपनी हिफाजत के लिए हथियार रखते हैं और कभी किसी तरह की ङ्क्षहसा में शामिल नहीं रहे। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You