एक हफ्ता पहले ही कांग्रेस ने कर ली थी मनमोहन सिंह की ‘जोरदार स्पीच’ तैयार!

  • एक हफ्ता पहले ही कांग्रेस ने कर ली थी मनमोहन सिंह की ‘जोरदार स्पीच’ तैयार!
You Are HereTop News
Friday, November 25, 2016-10:37 AM

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने गुरुवार को संसद में नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार के फैसले पर जोरदार भाषणा दिया। मनमोहन सिंह ने सरकार के नोटबंदी के निर्णय को लागू करने के तरीके को पूरी तरह विफल करार दिया और कहा कि इसके कारण देशभर में जमकर ‘संगठित’ और ‘कानूनी लूट मार’ हुई तथा आम आदमी को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। वहीं एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक मनमोहन सिंह के इस जोरधार भाषण के लिए कांग्रेस पिछले एक हफ्ते से तैयारियों में लगी थी। नोटबंदी पर सरकार को निशाना बनाने वाले मनमोहन सिंह की छवि साफ है और वित्त मामलों पर उनकी अच्छी पकड़ मानी जाती है।

हालांकि पहले कांग्रेस पार्टी चाहती थी कि मनमोहन सिंह टीवी पर एक इंटरव्यू दे दें लेकिन उनकी सेहत ठीक नहीं थी। सेहत की वजह से वह सोमवार को इजरायल के राष्ट्रपति से भी नहीं मिल पाए। फिर सोचा गया कि उनका एक लंबा पत्र प्रकाशित करा दिया जाए। लेकिन फिर पार्टी के लोगों को लगा कि टीवी पर मनमोहन सिंह का बोलना लोगों को ज्यादा आकर्षित करेगा। इसके बाद बुधवार को फाइनल हो गया कि संसद में बोलना ही सबसे ठीक रहेगा। मनमोहन सिंह ने भी इसपर हामी भर दी थी। सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस को इस बात की भनक लग गई थी कि गुरुवार को पीएम मोदी प्रश्न काल के वक्त संसद में होंगे और ऐसे में सरकार पीएम के सामने होने पर बहस के लिए कह सकती है। इसको देखते हुए मनमोहन सिंह को बोलने के लिए कहा गया।

राज्यसभा में पहले से यह तय हुआ था कि नियम नंबर 267 के तहत बहस तबतक ही होगी जबतक प्रधानमंत्री सदन में रहेंगे। राज्यसभा में मनमोहन सिंह ने कहा कि गरीबों के लिए 50 दिन भी पीड़ादायक है। आम लोगों को नोटबंदी से तकलीफ हुई है। अब तक 65 लोगों की नोटबंदी के चलते मौत हो चुकी है, जो कष्‍टदायक है। उन्होंने कहा कि हर दिन नए नियम बनाना सही नहीं है। पीएमओ फैसले को लागू कराने मे असफल रहा। नोटबंदी से जीडीपी में 2 फीसदी गिरावट आई है। लोग अपने ही पैसे बैंकों से नहीं निकाल पा रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You