डोकलाम विवाद: चीन ने किया युद्धाभ्यास, भारतीय सेना भी बढ़ा रही है अपनी ताकत

You Are HereNational
Monday, August 21, 2017-11:20 AM

बीजिंग: डोकलाम पर जारी तनातनी के बीच चीन ने एक बार फिर युद्धाभ्यास कर दुनिया को अपनी ताकत दिखाई है।चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने वेस्टर्न चीन में एक पठार पर मिलिट्री ड्रिल की है जिसमें बड़े पैमाने पर जंगी हथियारों का इस्तेमाल किया गया। इसमे स्पेशल फोर्स, आर्मी एविएशन और सशस्त्र सैनिकों ने भाग लिया। 
PunjabKesari
चीन ने फिर किया युद्धाभ्यास
चीनी सैनिकों ने युद्ध की नई तकनीकों का भी अभ्यास किया। जो वीडियो सामने आया है उसमें युद्ध अभ्यास में टैंक और मिसाइल का इस्तेमाल होता दिख रहा है।
PunjabKesari
वहीं, भारतीय सेना भी इस बीच लगातार अपनी ताकत बढ़ा रही है। सेना की तरफ से टी-90 टैंक में तीसरी पीढ़ी की मिसाइल प्रणाली लगाने की तैयारी की जा रही है। रूस में बने टी-90 टैंक भारतीय सेना के आक्रामक हथियारों का मुख्य आधार है। तीसरी पीढ़ी की मिसाइल लगाने के बाद 800-850 एमएम की डीओपी हासिल होगी और वो दिन के साथ-साथ रात में भी 8 किलोमीटर की दूरी तक के लक्ष्य को निशाना बनाने में सक्षम होगी।
PunjabKesariइस टैंक के दम पर दूसरों को धमकाता है चीन
एक ओर भारत अपनी टैंक को अपग्रेड कर रहा है तो वहीं चीन के टैंक की हालत पतली है। मेड इन चाइना टैंक T-96 वही टैंक है जिसके दम पर वो दुनिया के सामने सुपरपावर होने का दम भरता है। इसी टैंक से जंग जीतने की बात करता है।
PunjabKesariबता दें कि डोकलाम विवाद पर चीन बार-बार भारत को युद्ध की धमकी देता है। हाल ही में चीन ने कहा था,‘’अगर भारत ने डोकलाम से अपनी सेना नहीं हटाई तो वह गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहे और हमारे हथियार और सेना भारत के मुकाबले काफी बेहतर है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You