जम्मू-कश्मीर: मंत्री के काफिले पर आतंकी हमला, 3 लोगों की मौत

You Are HereNational
Friday, September 22, 2017-2:41 AM

श्रीनगर(मजीद): दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादियों द्वारा किए गए ग्रेनेड हमले में 3 नागरिकों की मौत हो गई, जबकि 7 सुरक्षा कर्मियों सहित 31 लोग घायल हो गए। मृतकों की पहचान पिंकी कौर, गुलाम नबी और मोहम्मद इकबाल खान के रूप में हुई है। घायलों में पुलिस कर्मी और अर्द्धसैनिक बल के जवान भी शामिल हैं। 
PunjabKesariपुलिस ने बताया कि पुलवामा जिले के त्राल में बस स्टैंड पर आतंकवादियों ने बम फैंका। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। तलाशी के लिए क्षेत्र को चारों ओर से घेर लिया गया है। इसी इलाके से राज्य के वरिष्ठ मंत्री नईम अख्तर का काफिला गुजर रहा था। हमले में मंत्री बाल-बाल बच गए, मगर उनका ड्राइवर घायल हो गया। अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। 

पुलिस महानिदेशक (डी.जी.पी.) एस.पी. वैद ने कहा कि इस हमले का निशाना पी.डब्ल्यू.डी. मंत्री नईम अख्तर थे। सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड हमले के बाद पुलिस और सी.आर.पी.एफ. के खिलाफ सैंकड़ों लोगों ने प्रदर्शन करते हुए आरोप लगाया कि सुरक्षा बलों ने नागरिकों पर फायरिंग की है। हालांकि, एस.पी. अवंतिपुरा मोहम्मद जाहिद ने फायरिंग से इंकार किया है। पी.डब्ल्यू.डी. मंत्री नईम अख्तर उनके काफिले पर हमले के बाद पत्रकारवार्ता दौरान रो पड़े। उन्होंने कहा कि वह इसे जिन्दगी भर नहीं भूल सकते। 

पाक रेंजर्स ने रिहायशी इलाकों को बनाया निशाना
भारत-पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर 2 दिन की शांति के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स ने बुधवार देर रात को जम्मू जिले के अर्निया एवं आर.एस.पुरा सैक्टरों में सीमा सुरक्षा बल की अग्रिम चौकियों और रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए मोर्टार दागे। इनकी चपेट में आकर 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसी बीच, कई मवेशियों के मारे जाने और कई के घायल होने की सूचना है। पाकिस्तान की इस गोलाबारी ने सीमावर्ती लोगों का प्रथम नवरात्रे के त्यौहार का मजा किरकिरा कर दिया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You