मीडिया के सामने आए SC के 4 जज, PM मोदी ने कानून मंत्री को किया तलब

You Are HereNational
Friday, January 12, 2018-1:38 PM

नई दिल्ली: देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जजों ने आज मीडिया को संबोधित किया। जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद सरकार में हड़कंप मच गया। इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और राज्य मंत्री पीपी चौधरी को तलब किया। सूत्रों के मुताबिक पीएम इस मामले को ज्यादा तूल नहीं देना चाहते हैं और इसी के चलते कानून मंत्री को बुलाकर जरूरी दिशा-निर्देश जारी कर सकते हैं। यह पहला ऐसा मौका है जब सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जजों ने मीडिया के सामने अपनी परेशानियों को जाहिर किया और कोर्ट प्रशासन के कामकाज पर भी सवाल उठाया।
PunjabKesari
चारों जजों ने आरपो लगाया कि कोर्ट का प्रशासन ठीक तरीके से काम नहीं कर रहा है, अगर ऐसा चलता रहा तो लोकतांत्रिक खतरे में है। जजों ने यह भी बताया कि इस संबंधी वे पहले चीफ जस्टिस को खत लिख चुके हैं जब उनकी बात नहीं सुनी गई तो आज सामने आए। उन्होंने कहा कि हम नहीं चाहते कि हम पर कोई आरोप लगाए कि हमने अच्छे से काम नहीं किया। हम तो बस देश के प्रति अपना कर्ज अदा कर रहे हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस मदन लोकुर और जस्टिस कुरियन जोसेफ शामिल थे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You