'बाल ठाकरे जीवित होते तो वह नोटबंदी का समर्थन करते'

  • 'बाल ठाकरे जीवित होते तो वह नोटबंदी का समर्थन करते'
You Are HereNational
Tuesday, November 22, 2016-10:47 PM

मुंबई: नोटबंदी की शिवसेना की आेर से आलोचना किए जाने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी सांसदों से कहा कि अगर बाल ठाकरे जीवित होते तो वह केंद्र सरकार के इस कदम का समर्थन करते। मोदी ने मंगलवार शिवसेना सांसदों के साथ बातचीत करते हुए यह बात कही। शिवसेना सांसदों ने सहकारी बैंकों, जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों तथा रिण सहकारी सोसायटी को पुराने नोट बदलने की इजाजत दिए जाने की मांग को लेकर मंगलवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री से मुलाकात की।  

शिवसेना के एक सूत्र ने बताया, ‘‘प्रधानमंत्री ने पार्टी सांसदों से कहा कि अगर दिवंगत बाल ठाकरे आज जीवित होते तो वह 500 और 1000 रूपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के फैसले का समर्थन करते।’’ मोदी के इस कथन का जवाब देते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह खुश हैं कि प्रधानमंत्री के दिल में बालासाहेब के प्रति सम्मान है। उन्होंने कहा, ‘‘परंतु फिलहाल मोदी को उनके सामने खड़े प्रश्नों का उत्तर देना चाहिए। अगर लोगों को उनके जवाब मिल जाते और उनका जीवन सरल हो जाता तो बालासाहेब ज्यादा प्रसन्न होते।’’ मोदी से मुलाकात करने वाले शिवसेना के 13 सांसदों ने आग्रह किया कि सहकारी बैंकों, जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों तथा रिण सहकारी सोसायटी को पुराने नोट बदलने की इजाजत दी जाए। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You