30 मई तक केरल पहुंचेगा मॉनसून, मौसम विभाग ने दिया अनुमान

  • 30 मई तक केरल पहुंचेगा मॉनसून, मौसम विभाग ने दिया अनुमान
You Are HereNational
Tuesday, May 16, 2017-2:41 PM

नई दिल्लीः इस साल मॉनसून की बारिश तय वक्त से एक दिन पहले केरल में पहुंच सकती है। मौसम विभाग के नए अनुमान के मुताबिक केरल में मॉनसून 30 मई तक पहुंच सकता है। केरल में मॉनसून की बारिश की सामान्य तारीख 1 जून है। गौर करने वाली बात ये है कि पिछले 5 साल में पहली बार मॉनसून 30 मई को केरल में दस्तक देने जा रहा है। पिछले साल इसे केरल तट पर 7 जून तक आने की उम्मीद थी, जबकि ये 8 जून तक केरल पहुंच सका था।

मॉनसून के लिए स्थितियां पॉजिटिव 
विभाग के मुताबिक अंडमान निकोबार में मॉनसून वक्त से पहले पहुंचा है। फिलहाल मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए स्थितियां पॉजिटिव बनी हुई हैं। वहीं विभाग ने साफ कहा है कि अंडमान में बारिश पहले या बाद में होने का केरल में मॉनसून पहुंचने या फिर देश में होने वाली बारिश के समय से कोई संबंध नहीं है। मॉनसून के अंडमान पहुंचने के बाद अगर स्थतियां मॉनसून के फेवर में बनी रहती हैं तभी माना जाता है कि देश में बारिश वक्त पर पहुंचेगी। फिलहाल ये स्थितियां मजबूत बनी हुई हैं ऐसे में मॉनसून तय वक्त पर आने की उम्मीदें बढ़ गई हैं।  

उत्तर भारत में बढ़ा पारा 
हालांकि मॉनसून के आने से पहले उत्तर भारत में पारा फिर से बढ़ने लगा है। उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार, ओडिशा और तेलंगाना के कई इलाकों में पारा 45 डिग्री के पार है। कल यूपी के बांदा में पारा 47 डिग्री तक पहुंच गया था। वहीं लखनऊ में 45 डिग्री और राजस्थान के चुरू में 46 डिग्री पर पारा पहुंच चुका है। कोटा में भी ये 44 डिग्री को पार कर चुका है। ओडिशा, बिहार और तेलंगाना में भी पारा 40 डिग्री के पार बना हुआ है।

12 साल में 11 बार सही रहा अनुमान
मॉनसून का अनुमान पिछले 12 साल ( 2005-2016) में 11 बार सही साबित हुआ है। साल 2012 देश में मॉनसून पहुंचने का अनुमान 1 जून का दिया गया था, मॉनसून 5 जून को पहुंचा था। वहीं 2013 में 3 जून के अनुमान के मुकाबले 1 जून को ही मॉनसून पहुंच गया था। 2014 में अनुमान 5 जून का था और मॉनसून की बारिश 6 जून से शुरू हुई। 2015 में अनुमान गलत निकला। अनुमान 30 मई का दिया गया था हालांकि बारिश 5 दिन बाद 5 जून को हुई। 2016 में मॉनसून एक हफ्ते लेट रहा था। मौसम विभाग ने 7 जून का अनुमान दिया था। मॉनसून की बारिश 8 जून से शुरू हुई थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You