नैकां ने भाजपा से पूछा: अनुच्छेद 35ए के हटने से डोगरों को कैसे होगा लाभ

  • नैकां ने भाजपा से पूछा: अनुच्छेद 35ए के हटने से डोगरों को कैसे होगा लाभ
You Are HereNational
Tuesday, August 22, 2017-7:13 PM

कठुआ: नैशनल कानफ्रेंस ने भारतीय जनता पार्टी से पूछा है कि अनुच्छेद 35ए के हटने से डोगरा लोगों को कैसे लाभ होगा। नैकां के प्रांतीय प्रधान देवेन्द्र सिंह राना ने कहा कि बातें करने की वजाय भाजपा को यह समझना होगा कि यह अनुच्छेद राज्य के लोगों और विशेषकर जम्मू के लोगों के हितों से जुड़ा है। उन्होंने कठुआ में एक लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अगर आर्टिक्ल 35ए के साथ छेड़ाछाड़ हुई तो भाजपा को कभी माफ नहीं किया जाएगा।


देवेन्द्र सिंह राना ने कहा कि महाराजा हरि सिंह ने यह स्थायी नागरिक कानून बनाया था और इसक डोगरा को लाभ मिलता है क्योंकि जम्मू को डुग्गर प्रदेश के नामा से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 35ए कुछ भी है पर देशविरोधी नहीं है क्योंकि यह भारतीय संविधान से आया है। उन्होंने कहा कि वास्तव में तत्कालीन राष्ट्रपति के माध्यम से अनुच्छेद 1954 में जब आया तो यह महाराजा हरी सिंह की दूरन्देशी का परिणाम था। उन्होंने कहा कि कश्मीर और लद्दाख से ज्यादा जम्मू के लिए यह सही है।

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You