पंजाब यूनिवर्सिटी में डी.एस.डब्ल्यू. नियुक्ति का मुद्दा अप्रूवल की बजाय रैटीफिकेशन में आया

  • पंजाब यूनिवर्सिटी में डी.एस.डब्ल्यू. नियुक्ति का मुद्दा अप्रूवल की बजाय रैटीफिकेशन में आया
You Are HereChandigarh
Sunday, November 20, 2016-9:43 AM

चंडीगढ़(रश्मि हंस) : पंजाब यूनिवर्सिटी में नए डीन स्टूडैंट वैल्फेयर डी.एस.डब्ल्यू. की नियुक्ति का मुद्दा एजैंडै में अप्रूवल लेने की बजाए रैटीफिकेशन में आया है। जबकि हर बार इस पद पर कौन नियुक्त होगा इस मुद्दे को सिंडीकेट में लाया जाता था। हालांकि एजैंडे में सिन्योरिटी के आधार पर नाम प्रस्तावित किए जाते थे। इस बार सिंडीकेट बैठक 27 नवम्बर को है, लेकिन इस बार इस पद पर प्रो. जतिंद्र कुमार गोस्वामी को बतौर डी.एस.डब्ल्यू ज्वाइन करवा लिया गया है। 

 

हालांकि उनकी नियुक्ति पी.यू प्रबंधन की तरफ से गठित कमेटी के तहत की गई है। इससे पहले पूर्व डी.एस.डब्ल्यू. प्रो. नवदीप गोयल का कार्यकाल अगस्त से स्टूडैंट काऊंसिल चुनावों तक का कार्यकाल पी.यू. प्रबंधन की तरफ से बढ़ाया गया था। इसका भी कुछ सिंडीकेट व सीनेट सदस्यों ने विरोध किया था। ऐसे में नए डी.एस.डब्ल्यू. की नियुक्ति होने पर भी यह मुद्दा सिंडीकेट की बैठक में उठाया जा सकता है। ऐसे डी.एस.डब्ल्यू. वूमैन की नियुक्ति का मुद्दा भी आएगा। सिंडीकेट मीटिंग में कुल 32 मुद्दें है, जिन पर चर्चा होगी। 

 

ये भी होंगे मीटिंग में शामिल :
विभिन्न विभागों में शिक्षकों की प्रमोशन और कंफर्मेशन का मुद्दा 
यू.आई.ए.एम.एस. में फैकल्टी के लिए रिक्रूटमैंट टैस्ट और एंट्रैंस टैस्ट लेने का मुद्दा
वुजबर्ग यूनिवर्सिटी, जर्मनी एवं पी.यू. में एम.ओ.यू. साइन। 
बोर्ड ऑफ  फाइनैंस की बैठक में आए मुद्दे 
प्रो. राजेश गिल  से संबंधित सैक्सुअल हरासमैंट का मुद्दा
लॉ विभाग में रयात एवं बाहरा के स्टूडैंट द्वारा पी.यू. में क्लासिज लगाने के का मुद्दा

 

रैटीफिकेशन के लिए :
पी.यू के एक टैक्नीशियन पर स्टूडैंट द्वारा लगाए गए सैक्सुअल हरासमैंट के आरोप
सीनेट चुनावों के स्टाफ  पर खर्च हुए पैसे की रिइम्बर्समैंट 
फिजीक्स विभाग के डा. रंजन कुमार की  बतौर एसोसिएट डी.एस.डब्ल्यू. अप्वाइंटमैंट


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You