नोटबंदी ने की संसदबंदी, भारी हंगामें के कारण दोनों सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

  • नोटबंदी ने की संसदबंदी, भारी हंगामें के कारण दोनों सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित
You Are HereNational
Friday, December 16, 2016-5:18 PM

नई दिल्ली: अर्थव्यवस्था और सामान्य जन जीवन को प्रभावित करने वाली नोटबंदी के मुद्दे पर चर्चा को लेकर विपक्ष के भारी हंगामें और सत्ता पक्ष के अड़यिल रुख के कारण संसद का शीतकालीन सत्र ठप रहा और दोनों सदनों की कार्यवाही आज अनिश्चतकाल के लिए स्थगित कर दी गई। सोलह नवंबर से शुरु हुए इस सत्र में लोकसभा में तीन और राज्यसभा में मात्र एक विधेयक ही पारित हो सका और नोटबंदी पर चर्चा भी पूरी नहीं हो सकी। 

लोकसभा-राज्यसभा के कई घंटे बर्बाद 
विपक्ष जहां दोनों सदनों में चर्चा के दौरान प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी की मांग करता रहा वहीं सत्ता पक्ष इस मुद्दे पर इसके लिए तैयार नहीं हुआ जिससे आखिर तक गतिरोध बना रहा और दोनों सदनों की कार्यवाही सुचारु तरीके से नहीं चल पायी। हंगामें के कारण लोकसभा के करीब 92 घंटे और राज्यसभा के 86 घंटे बर्बाद हुए।  

राज्यसभा में केवल एक विधेयक पारित
लोकसभा में सिर्फ कराधाना संशेाधन विधेयक, दिव्यांगजन अधिकार विधेयकतथा निशक्तजन अधिकार विधेयक पारित किए गए। इसके अलावा चालू वित्त वर्ष की पूरक अनुदान मांग तथा 2013-14 की अतिरिक्त अनुदान मांगें और उनसे संबंधित विनियोग विधयेक पारित हुए। दूसरी ओर राज्यसभा में केवल दिव्यांगजन अधिकार विधेयक ही पारित हुआ। वहां न तो अनुदान मांगे और न ही कराधान विधेयक पेश किया जा सका। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You