सर्वदलीय बैठक में बोले PM, 'नोटबंदी मामले में सहयोग दे विपक्ष'

  • सर्वदलीय बैठक में बोले PM, 'नोटबंदी मामले में सहयोग दे विपक्ष'
You Are HereTop News
Wednesday, November 16, 2016-8:09 AM

नई दिल्ली: नोटबंदी पर विपक्ष के तीखे तेवरों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों से भ्रष्टाचार, काले धन और जाली नोटों पर अंकुश लगाने के लिए सरकार की मुहिम में सहयोग देने की अपील की है। संसद के शीतकालीन सत्र की पूर्व संध्या पर संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में मोदी ने वस्तु एवं सेवा कर विधेयक (जी.एस.टी.) पर पिछले सत्र में विपक्षी दलों के सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि सभी दलों को शीतकालीन सत्र में इसी तरह काले धन के खिलाफ सरकार की मुहिम में सहयोग देना चाहिए और इसके लिए उठाए जा रहे कदमों का संसद तथा बाहर समर्थन करना चाहिए।

मोदी ने कहा सरकार हर मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार है। संसद सत्र में जन कल्याण के मुद्दे उठाए जाएं। मोदी ने सभी राजनीतिक दलों से लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ करवाने तथा चुनाव के लिए उम्मीदवारों को सरकारी खर्च मुहैया करवाने के मुद्दे पर आम सहमति बनाने की अपील की है। उधर कांग्रेस ने कहा कि वह नोटबंदी के फैसले को वापस लेने के पक्ष में नहीं है लेकिन सरकार के इस निर्णय से देशवासियों को हो रही परेशानियों को हर हाल में तत्काल दूर किया जाना चाहिए। नोट बदलने की प्रक्रिया में एक बड़ा घोटाला हुआ है। इसकी सूचना कुछ लोगों को लीक की गई थी। राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने सर्वदलीय बैठक के बाद पत्रकारों से यह बात कही।

सर्वदलीय बैठक में लगभग सभी विपक्षी दल इस बात पर एकमत थे कि सरकार ने 500 तथा 1000 के नोटों को प्रचलन से बाहर करने का फैसला जल्दबाजी में और बिना तैयारी के लिया है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस मुद्दे पर पहले संसद के दोनों सदनों में चर्चा करवाना चाहती है और उसके बाद जरूरत पड़ी तो राष्ट्रपति से मुलाकात की जाएगी। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के नेताओं तथा कुछ अन्य  लोगों को  नोटबंदी के निर्णय के बारे में पहले से ही जानकारी दी गई थी और यह बहुत बड़ा घोटाला है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You