नोट बैनः मोदी सरकार पर विपक्ष का वार

  • नोट बैनः मोदी सरकार पर विपक्ष का वार
You Are HereNational
Monday, November 14, 2016-6:05 PM

नई दिल्ली: नोट बैन पर सियासत लगातार गरमा रही है। पीएम माेदी ने कल गोवा में जो कुछ कहा, वो कई मायनों में खास है। एक तरफ उन्होंने देश को बताया कि आखिर क्यों उन्होंने नोटबंदी का कड़ा फैसला करना पड़ा, दूसरी तरफ उन्होंने कहा कि कालेधन को खत्म करने के लिए वो अभी कुछ और कड़े फैसले लेगें। वहीं, विपक्ष ने नए मुद्दे उठाकर पीएम पर निशाना साधा है।

पीएम पर विपक्ष का वारः-

1) 50 दिन के लिए तैयार नहीं जनताः केजरीवाल

नोटबंदी के बाद बैंक के बाहर लाइन में खड़े लोगों का दर्द समझते हुए पीएम मोदी ने देश से 50 दिन का वक्त मांगा, जिस पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जनता इसके लिए तैयार नहीं है। 

2) देश को ब्लैकमेल ना करेंः मायावती
अपने भाषण में प्रधानमंत्री मोदी कालेधन के खिलाफ लड़ाई पर बोलते हुए भावुक हो गए लेकिन बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर उनके जज्बाती बोल का कोई असर नहीं पड़ा। मायावती ने कहा, नोट बैन के मुद्दे पर वो देश को ब्लैकमेल ना करें। अगर मोदी ने घर परिवार छोड़ा है तो इसका मतलब ये नहीं कि वे आम जनता को दुःख पहुंचाने वाला फैसला ले।

3) मोदी हंस रहे हैं, गरीब रो रहा हैः राहुल गांधी
पीएम मोदी ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि घोटाला करने वाले नोट बदलने के लिए लाइन में खड़े हो गए हैं। राहुल भी 3 दिन पहले दिल्ली में बैंक के बाहर लाइन में लगे थे। प्रधानमंत्री के इस हमले का जवाब देते हुए राहुल ने ट्विटर पर सवाल किया कि जब देश पाई पाई के लिए तरस रहा था तब आप उसका दर्द देखने के बजाय जापान की सैर क्यों कर रहे थे? मोदी जी हंस रहे हैं, गरीब रो रहा है।

4) बाकी नेताअाें से बात कर रही ममता
नोटबंदी के मुद्दे पर ममता बनर्जी ने सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव से फोन पर बात करने के बाद रविवार को इस मुद्दे पर राहुल गांधी और नीतीश कुमार से भी बात की।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You