मनमोहन को PM बनाना सोनिया गांधी की बेस्ट च्वॉइस: प्रणब मुखर्जी

  • मनमोहन को PM बनाना सोनिया गांधी की बेस्ट च्वॉइस: प्रणब मुखर्जी
You Are HereTop News
Friday, October 13, 2017-11:59 AM

नई दिल्ली: पहली बार ऐसा मौका आया है जब राष्ट्रपति भवन की पारी खत्म होने के बाद प्रणब मुखर्जी ने अपनी बात सबके सामने एक साक्षात्कार के दौरान खुलकर रखी हो। इस दौरान उन्होंने 2014 के आम चुनाव में कांग्रेस की हार से लेकर जीएसटी समेत कई मुद्दों पर चर्चा की। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और भारत के पूर्व पीएम मनमोहन सिंह से अपने रिश्तों को लेकर भी अपने विचार रखें। उन्होंने  मनमोहन सिंह को पीएम बनाए जाने के सोनिया गांधी के फैसले को सही ठहराते हुए कहा कि उस समय मनमोहन को पीएम बनना सोनिया गांधी की सबसे सहीं पसंद थी, इसके साथ ही प्रणब मुखर्जी ने माना कि सीटों  की गड़बड़ी और गठबंधन में कमजोरी कहीं न कहीं  यूपीए सरकार की आम चुनाव में हार की वजह बनी थी।

मोदी सरकार पर दी प्रणब मुखर्जी पर कुछ यूं राय
इसके साथ ही पीएम मोदी और एनडीए सरकार को लेकर प्रणब मुखर्जी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि यह कहना बिल्कुल भी सहीं  नहीं होगा कि 132 साल पुरानी पार्टी फिर से सत्ता नहीं संभाल सकती हैं। इसके साथ ही पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम, जीएसटी और अर्थव्यवस्था में हुई गिरावट को लेकर  मोदी सरकार की आलोचना और जनता के गुस्से पर अपनी राये देते हुए प्रणब ने पैनिका पैदा न किए जाने और ज्यादा बदलाव नहीं करने की सलाह दी।

वाजयेपी सरकार बनने से पहले था सोनिया गांधी का अलग दृष्टिकोण
वहीं, प्रणब मुखर्जी ने वाजयेपी सरकार बनने से पहले सोनिया गांधी के दृष्टिकोण को लेकर भी अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि शुरु के समय में सोनिया गांधी  का उनके प्रति एक नरम दृष्टिकोण रहा करता था, लेकिन वाजपेयी सरकार बनने के बाद बदलाव देखने को मिला। उन्होंने बताया कि वर्ष 2004 में लोगों ने सोनिया गांधी को पीएम बनाने को लेकर  कांग्रेस  को अपना वोट दिया था। लेकिन वहीं, सोनिया गांधी द्वारा मनमोहन सिंह को  पीएम पद के लिए चुनने पर जब प्रणब मुखर्जी से सावल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं बिल्कुल भी नाराज नहीं हुआ। बल्कि मुझे ऐसा लगा कि उस समय मैं भारत का प्रधानमंत्री बनने के लायक नहीं हूं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You