Subscribe Now!

चंडीगढ़ की प्रिया फौज में पहली महिला कैडेट, प्रेसिंडेंट ने दिया 'फर्स्ट लेडीज' अवॉर्ड

  • चंडीगढ़ की प्रिया फौज में पहली महिला कैडेट, प्रेसिंडेंट ने दिया 'फर्स्ट लेडीज' अवॉर्ड
You Are HereNational
Saturday, January 20, 2018-3:01 PM

चंडीगढ़ : अपने हौंसले और हिम्मत से ऊंचाइयों को छूने वाली शहर की प्रिया छिंगन को देश की फौज में पहली महिला कैडेट के तौर पर चुने जाने के कारण शनिवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मानित किया। प्रिया छिंगन के साथ ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को राष्ट्रपति भवन में अपने-अपने क्षेत्र में असाधारण कार्य करने वाली 112 महिलाओं को भी सम्मानित किया । इन महिलाओं में पहली महिला न्यायाधीश, पहली महिला कुली, मिसाइल परियोजना की अगुवाई करने वाली पहली महिला, पहली पैरा ट्रूपर, पहली ओलम्पियन शामिल हैं।  इस अवॉर्ड को महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय द्वारा दिया गया। सम्मान समारोह में केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी और सूचना प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद थीं।

 

ये भी हैं शामिल :

इनमें माउंट एवरेस्ट के शिखर तक पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बछेंद्री पाल, पैरालिम्पिक्स में पहला पदक जीतने वाली दीपा मलिक, भारतीय सेना में पहली महिला अधिकारी प्रिया झिंगन, ओलंपिक में सिल्वर पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पी.वी. सिंधू, भारत की सबसे कम उम्र की पायलट आयशा अजीज, मिस अर्थ का खिताब जीतने वाली निकोले फारिया, भारत की पहली महिला मर्चेंट नेवी कैप्टन राधिका मेनन, देश की पहली महिला कांस्य पदक विजेता कर्णम मल्लेश्वरी, पहली भारतीय महिला ट्रेन ड्राइवर सुरेखा यादव, विश्व कप शूटिंग में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली महिला हीना सिद्धू, अंतरिक्ष में जानेवाली पहली भारतीय महिला कल्पना चावला, बैडमिंटन खिलाड़ी सानिया मिर्जा, कान फिल्म समारोह की पहली भारतीय महिला ज्यूरी अभिनेत्री एश्वर्या राय और महिला क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा शामिल हैं|

 

1992 में ज्वॉइन ​की थी आर्मी : 
प्रिया एक पुलिस अधिकारी की बेटी होने के कारण पहले पुलिस ज्वॉइन करना चाहती थीं, लेकिन बाद में उन्होंने आर्मी चीफ जनरल रॉड्रिक्स को लेटर लिखकर आर्मी जॉइन करने की इच्छा जाहिर की। आर्मी ज्वॉइन करने के बाद वे इन्फेंट्री डिवीजन जॉइन करना चाहती थीं। उनकी इस रिक्वेस्ट को आर्मी के अफसरों ने रिजेक्ट कर दिया। लॉ ग्रेजुएट होने के कारण ही उन्हें जज एडवोकेट जनरल में पोस्टिंग मिली। सेना में 10 साल की सर्विस के बाद 2002 में रिटायर हुईं प्रिया के अनुसार वे हमेशा से महिलाओं के सेना जॉइन करने के पक्ष में रही हैं। वे टीवी सीरियल खतरों के खिलाड़ी में भी भाग ले चुकी हैं। 


मेजर प्रिया झिंगन आर्मी ज्वॉइन करने वाली पहली एनसीसी कैडेट हैं। प्रिया झिंगन ने 1992 में इंडियन आर्मी जॉइन की थी। प्रिया ने ही चीफ आॅफ आर्मी स्टाफ को 1988 में लेटर लिखकर महिलाओं को सेना में ज्वॉइन करने के लिए कहा था। प्रिया शिमला की रहने वाली हैं, लेकिन मौजूदा समय में वे मनीमाजरा में रह रही हैं। झिंगन ने 1992 में आॅफिसर ट्रेनिंग अकादमी चेन्नई में ज्वॉइन किया था। सिल्वर मेडलिस्ट होने के कारण उन्हें 6 मार्च 1993 को जज एडवोकेट्स जनरल डिपार्टमेंट में कमीशन मिला था। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You