मुठभेड़ के बाद दक्षिण कश्मीर में झड़पें, मोबाइल सेवाएं निलंबित

  • मुठभेड़ के बाद दक्षिण कश्मीर में झड़पें, मोबाइल सेवाएं निलंबित
You Are HereNational
Wednesday, December 14, 2016-5:17 PM

श्रीनगर : इस बीच आतंकी की मौत के बाद दक्षिण कश्मीर के कई हिस्सों में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन और झड़पें हुई। पुलिस के अनुसार बासित रसूल निवासी मरहामा, अनंतनाग को आज बावूरा-हादीगाम इलाके में मुठभेड़ के दौरान मार दिया गया। पुलिस सूत्रों ने कहा कि बावूरा हादीगाम में पुलिस दल ने आतंकियों के एक समूह को रुकने के लिए कहा। आतंकियों ने अंधाधुंध गोलीबारी करते हुए भागने की कोशिश की लेकिन सुरक्षाबलों ने तुरन्त जवाबी कार्रवाई की जिसमें एक आतंकी मारा गया जबकि एक अन्य भागने में कामयाब रहा।


पारिवारिक सूत्रों ने कहा कि चार महीने आतंकवाद में शामिल होने से पहले बासित इस्लामिक विश्वविद्यालय में बी.टेक कर रहा था।सूत्रों ने कहा कि पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों ने बासित के परिवार को उसे आत्मसमर्पण करने करने के लिए राजी करने को कहा था लेकिन उसका कोई फायदा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि बासित के पिता जो जम्मू कश्मीर बैंक में प्रबंधक के रुप में तैनात है ने भी अपने बेटे को वापस लाने की कोशिश की लेकिन उसका भी कोई फायदा नहीं हुआ। बासित को हिजबुल आतंकी बुरहान वानी की मौत के बाद कमान संभालने वाले जाकिर भट्ट का करीबी सहयोग माना जाता था।


वहीं, ट्वीटर पर बासित के एक दोस्त ने ट्वीट किया कि मुझे याद है कि किस तरह से बासित स्कूल में दूसरे छात्रों के बैग से बिस्किट आदि चुरा लेता था। शायद यह कल रात था। आज आप शहीद हो गए। आपने किया। अंतत: आपने ऐसा कर लिया। उधर, आतंकी की मौत की खबर फैलने के तुरन्त बाद बिजबिहाड़ा क्षेत्र के आसपास बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बिजबिहाड़ा, कनेलवान, बावूरा और सिरीगुफवारा में लोग सडक़ों पर उतर आए और देश विरोध तथा आजादी समर्थक विरोध प्रदर्शन किया।


मरहामा इलाके में आतंकी के घर पर हजारों लोग इकट्ठा हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि मुठभेड़ में मारे गए आतंकी का शव उसके परिवार को सौंप दिया गया है।
इससे पहले सुरक्षाबलों को बिजबेहड़ा इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इसके बाद सेना और पुलिस ने इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई। इसके बाद आतंकियों ने फ ायरिंग शुरू कर दी, दोनों ओर से फ ायरिंग जारी है। कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को मार गिराया गया। बताया जा रहा है कि बिजबेहड़ा में मारा गया आतंकी हिस्ट्री शीटर था और कुछ ही महीने पहले ही आतंकी शिविर से लौटा था।


वहीं सोपोर में भी सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। सोपोर के बोमाइ इलाके में एक रिहायशी मकान में छिपे आतंकियों को मार गिराने के लिए सुरक्षाबलों ने आई.ई.डी. विस्फोटकों का इस्तेमाल करते हुए मकान को ब्लास कर दिया। हालांकि, सुरक्षाबलों दोनो पक्षों के बीच गोलीबारी जारी है। सेना और पुलिस यहां मिलकर सर्च ऑपरेशन चला रही है। यहां काफी तादाद में आतंकियों के छिपे होने की खबर है। ऐसा बताया जा रहा है कि इलाके में अबु बाकर के नाम से मश्हूर विदेशी आतंकी भी छिपा है।
इस बीच प्रशासन ने सोपोर में बी.एस.एन.एल. को छोडक़र सभी कंपनियों के मोबाइल सेवाओं को निलंबित कर दिया। इसके अलावा सोपोर में प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच झड़पें भी हुई।


उन्होने कहा कि मुठभेड़ के बारे में सूचना प्राप्त करने से नागरिकों को रोकने के लिए संचार सेवाओं को निलंबित कर दिया। एक अधिकारी ने कहा कि नागरिक घेराबंदी वाले इलाकों में आ जाते है और इससे हाल ही में दक्षिण कश्मीर स्थिति खराब हो गई।
हाल ही में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सुरक्षाबलों को युवा लडक़ों जो आतंकवाद में शामिल हो गए हैं को आत्मसमर्पण करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए कहा था। साथ ही उनके लिए पुनर्वास कार्यक्रम तैयार करने के लिए भी कहा था।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You