अक्सर गायब रहता था पी.यू. का  नॉन टीचिंग स्टाफ, जारी हुआ यह सर्कुलर

  • अक्सर गायब रहता था पी.यू. का  नॉन टीचिंग स्टाफ, जारी हुआ यह सर्कुलर
You Are HereNational
Wednesday, December 14, 2016-8:18 AM

चंडीगढ़ (रोहिला): भारत सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत बुधवार से पंजाब यूनिवर्सिटी नॉन टीचिंग इम्प्लाइज स्कोर की अटैंडैंस बायोमीट्रिक सिस्टम के जरिए होगी। रजिस्ट्रार कर्नल गुरजीत सिंह चड्ढा ने इस बारे में सर्कुलर जारी कर दिया है। उनका कहना है कि डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत यह डिजिटल यूनिवर्सिटी का पहला कदम है। बेसमैंट गेट के बाहर दो मशीनें, फ्रंट गेट के पास दो मशीन व इमरजैंसी गेट के पास एक मशीन लगाई गई है। पी.यू. ने डी.पी.आर. ऑफिस के साथ लगते एक ऑफिस में तकनीकी स्टाफ की ड्यूटी भी लगाई है, ताकि इंप्लाइज को प्रॉब्लम न आए। उल्लेखनीय है कि पंजाब यूनिवर्सिटी में नॉन टीचिंग इम्प्लॉय के अकसर सीट से गायब रहने की शिकायतें मिलती हैं। इस सिस्टम को लागू करने की बात लंबे समय से चल रही थी। गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी और पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला में बायोमीट्रिक अटैंडैंस टीचर और स्टूडैंट्स के लिए जरूरी है, लेकिन पी.यू. ने फिलहाल सिर्फ नॉन टीचिंग स्टाफ के लिए इसे शुरू किया है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You