तीन तलाक एक ज्वलंत मुद्दा: राजनाथ सिंह

  • तीन तलाक एक ज्वलंत मुद्दा: राजनाथ सिंह
You Are HereNational
Thursday, November 24, 2016-12:45 AM

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को तीन तलाक को ‘ज्वलंत’ मुद्दा करार दिया और कहा कि भारत जैसे विकासशील देश में महिलाओं के साथ ‘दोयम दर्जे’ के नागरिक के तौर पर व्यवहार नहीं किया जा सकता। सिंह ने समान नागरिक संहिता के जटिल मुद्दे पर व्यापक चर्चा की पैरवी करते हुए कहा कि सहमति बनने की स्थिति में किसी को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए क्योंकि संविधान के निर्माता भी यही चाहते थे कि सरकार हर नागरिक को सशक्त बनाने के लिए इसे क्रियान्वित कराने का प्रयास करेगी।
 

उन्होंने कहा कि बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर ने संविधान में सभी के सशक्तीकरण का विश्वास दिलाया था, चाहे वो महिलाएं हो या कोई और हो। गृह मंत्री ने कहा कि तीन तलाक आज के समय का ज्वलंत मुद्दा है...क्या यह संविधान के अनुच्छेद 44 के अनुसार है? इस पर फैसला सिर्फ अदालत करेगी। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के संबंध में सिंह ने कहा कि इससे ‘एक देश, एक कर’ की व्यस्था अस्तित्व में आएगी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You