राजनाथ ने जिस इलाके में किया दौरा, वहीं हेलिकॉप्टर से चीन ने की घुसपैठ

You Are HereNational
Friday, January 12, 2018-1:20 PM

नई दिल्ली: भारत भले ही डोकलाम विवाद सुलझाने में कामयाब रहा हो लेकिन फिर भी चीन की चालाकियां कम नहीं हुई हैं। इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक चीन ने भारतीय सीमा पर  73 बार घुसपैठ की है। यह घुसपैठ डोकलाम विवाद सुलझाने के बाद भी हुई। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने 30 सितंबर, 2017 को बाराहोती में के ITBP की 2 बीएओपी (रिमखिम और लपथल) का दौरा किया था। राजनाथ के इस दौरे के बाद उसी इलाको में 11 अक्तूबर, 2017 को चीन भारत की सीमा के अंदर 2 हेलिकॉप्टर से तुंजुन ला के रास्ते 4.5 किमी सीमा के अंदर घुस आया था। ये दोनों हेलिकॉप्टर MI-17 थे, जो भारतीय क्षेत्र में यानी रिमखिम और लपथल के इस इलाके में 1200 से 1500 मीटर की ऊंचाई पर उड़ रहे थे। इसके बाद 7 नवंबर को लद्दाख क्षेत्र में 4 चीनी हेलीकॉप्टर भारतीय सीमा में घुस आए थे। एक हेलि‍कॉप्टर करीब 30 मिनट तक हवा में मंडराता रहा था. हेलिकॉप्टर से घुसपैठ के अलावा अक्तूबर और नवंबर में ट्रिंग हाईट, रिमखिम और डेप्संग में भी चीन ने कई बार घुसपैठ की।
PunjabKesari

2017 में बढ़ीं घुसपैठ की घटनाएं
2016 के मुकाबले 2017 में घुसपैठ की घटनाएं काफी बढ़ीं हैं। 2016 में चीन ने जहां सिर्फ 270 बार घुसपैठ की कोशिश की वहीं 2017 में यह संख्या बढ़कर 400 हो गई। 2015 में 350 घुसपैठ की घटनाएं सामने आई थीं। अखबार के पास मौजूद जानकारी के अनुसार अक्तूबर में लद्दाख क्षेत्र में ट्रिंग हाईट के पास 6 बार घुसपैठ की घटनाएं हुई। वहीं 3 नवंबर और 14 अक्तूबर को चीनी सेना भारतीय सीमा के अंदर 7 किलोमीटर भारत के अंदर घुस आई थी।
PunjabKesari

भारत पर दबाव बनाना चाहता है चीन
चीन की यह घुसपैठ अचानक नहीं बल्कि एक सोची-समझी साजिश है। चीन भारत पर अपना दबदबा बनाए रखने के लिए ऐसी चालाकियां कर रहा है। दरअसल भारत की डोकलाम पर कुटनीतिक सुझबुझ चीन को हजम नहीं हो रही, इसलिए ऐसी घटनाओं में तेजी आई है। उल्लेखनीय है कि भारत और चीन के बीच साल 2000 से पहले सीमा पर सिर्फ 8 विवादित क्षेत्र थे, वहीं साल 2000 में इसमें 3 नए क्षेत्रों का इजाफ हुआ। चीनी सेना के घुसपैठ बढ़ने से अब लगभग 23 जगहों पर सीमा को लेकर विवाद चल रहा है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You