प्रद्युम्न मर्डर केस: SIT ने तीन महिला टीचरों को पूछताछ के लिए बुलाया

  • प्रद्युम्न मर्डर केस: SIT ने तीन महिला टीचरों को पूछताछ के लिए बुलाया
You Are HereNational
Sunday, September 10, 2017-9:54 PM

गुरुग्रामः प्रद्युम्न मर्डर केस की जांच कर रही एसआईटी ने गुरुग्राम के रेयान स्कूल में पढ़ाने वाली तीन महिला टीचरों को पूछताछ के लिए बुलाया है। इससे पहले पुलिस ने रेयान स्कूल के मालिक और मैनेजमेंट के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट की धारा-75 के तहत केस दर्ज किया है। 

शिक्षामंत्री राम बिलास शर्मा ने पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि फिलहाल स्कूल की मान्यता रद्द नहीं की जाएगी। स्कूल में मौजूदा समय में करीब 1200 छात्र हैं। ऐसा करने से छात्रों का भविष्य खराब होगा। स्कूल की मान्यता रद्द करने की बजाए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। 

वहीं, हरियाणा सरकार ने पुलिस से निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाकर सीबीआई जांच से इनकार कर दिया तो प्रद्युम्न के पिता ने मीडिया के बीच आकर कहा कि सरकार को मेरी जगह खुद को रखकर देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार सच जानने के लिए जांच कर रही है या सच का चेहरा छुपाया जा रहा है।

शिक्षामंत्री राम बिलास शर्मा जिस वक्त अपना बयान दे रहे थे उसी समय गुस्साई भीड़ ने स्कूल के पास स्थित शराब की दुकान में आग लगा दी थी। इसके बाद भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस ने 20 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया है। 

गुरुग्राम पुलिस के जन संपर्क अधिकारी रविंदर कुमार ने बताया कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए हल्का लाठीचार्ज किया था। स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे 20 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि खाली समय में स्कूल के ड्राइवर और कंडक्टर शराब की दुकान से शराब खरीद कर पीते हैं।

उधर, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि केन्द्र को रेयान इंटरनेशनल स्कूल के सात साल के छात्र की हत्या मामले में सीबीआई जांच के आदेश देने चाहिए। इस मामले में लोगों का गुस्सा स्वाभाविक प्रतिक्रिया है। हुड्डा ने पुलिस द्वारा की गई लाठीचार्ज की भी निंदा की।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You