मंदिर की भक्ताें के लिए अनाेखा स्कीम: बिना ब्याज लें पुराने नोट, वापस करें नए

  • मंदिर की भक्ताें के लिए अनाेखा स्कीम: बिना ब्याज लें पुराने नोट, वापस करें नए
You Are HereTop News
Tuesday, November 22, 2016-5:43 PM

नई दिल्ली: माेदी सरकार के नाेट बैन के बाद कई मंदिरों के पास दान में मिले 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बड़ी संख्या में मौजूद हैं। नोटबंदी के बाद मंदिर इन नोटों को किसी न किसी तरह से बदलना चाहते हैं। मुंबई के जैन मंदिरों ने इस परेशानी से निकलने के लिए अनाेखा तरीका निकाला है।

पुरानों नोटों के बदले दें नए नोट 
खबर के मुताबिक, ये मंदिर अपने भक्तों से अनुरोध कर रहे हैं, कि वो दान की गई राशि के बंद हुए 1000 और 500 के नोट ले जाएं और जिस तरह से उसका इस्तेमाल कर सकते हैं कर ले और कुछ महीने बाद इन पुरानों नोटों के बदले नए नोट मंदिर को वापस कर दें। कई मंदिरों ने इसके लिए अपने आस-पास के भक्तों के साथ बैठकें शुरू कर दी हैं। इन बैठकों के जरिए मंदिर ट्रस्ट 25000 से 50000 रुपए तक की राशि ले जाने की स्कीम भक्तों को दे रहे हैं। 

बिना ब्याज के मंदिर से लें रुपए
सूत्रों के मुताबिक, मंदिर ट्रस्ट हमसे कह रहे हैं कि बिना ब्याज के हम मंदिरों से दान राशि ले जाएं और बाद में अगले साल उसे अप्रैल में मंदिर को वापस कर दें। 
सूत्रों की मानें ताे मंदिरों के पास करोड़ों में मौजूद ये राशि दान पात्रों से नहीं मिली है, बल्कि बड़े व्यवसाईयों के द्वारा बड़े आयोजनों के बाद ये राशि मंदिरों को दी गई है। ऐसे में नोटबंदी के बाद रद्दी हो चुके इन नोटों को प्रबंधित करना मंदिरों के लिए मुश्किल हो रहा है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You