नोटबंदी के मुद्दे पर शिवसेना ने भाजपा पर फिर साधा निशाना

  • नोटबंदी के मुद्दे पर शिवसेना ने भाजपा पर फिर साधा निशाना
You Are HereNational
Tuesday, November 22, 2016-7:02 PM

मुंबई: शिवसेना नेे मंगलवार को नोटबंदी के मुद्दे पर भाजपा पर दबाव बढ़ाया और पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि भाजपा को अपनी मर्जी से लोगों को देशभक्त या देशद्रोही करार नहीं देना चाहिए। शिवसेना ने यह तल्ख टिप्पणियां एेसे समय में कीं जब उसने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के इस बयान पर आपत्ति जताई कि इस कदम का विरोध करने वाले देश को नुकसान पहुंचा रहे हैं। 
 

सेना के मुखपत्र ‘सामना’ में कहा गया कि नोटबंदी के कदम से वास्तविक काला धन तो बाहर नहीं आया बल्कि सरकार भूख, महंगाई और बेरोजगारी जैसे ज्वलंत मुद्दों से ध्यान भटकाने में कामयाब जरूर हो गई। उपनगरीय बांद्रा स्थित अपने आवास ‘मातोश्री’ में संवाददाताओं से बातचीत में ठाकरे ने संवाददाताओं से कहा कि आपको उन लोगों को देशभक्ति सिखाने की जरूरत नहीं है जो व्यथित हैं और चुपचाप कतारों में खड़े हैं। 


उन्होंने कहा कि उनकी मेहनत की कमाई का देश में सभी कार्यों के लिए इस्तेमाल हो रहा है। एेसे में आपको (भाजपा को) अपनी मर्जी और सुविधा के हिसाब से लोगों को देशभक्त या राष्ट्रदोही करार नहीं देना चाहिए।  गौरतलब है कि महाराष्ट्र के मुयमंत्री फडणवीस ने हाल में तटीय कोंकण जिले के रत्नागिरी में एक चुनावी रैली में कहा था कि नोटबंदी के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध करने वाले देश को नुकसान पहुंचा रहे हैं और काले धन के खिलाफ निर्णायक लड़ाई में जीत के लिए लोगों को एकसाथ आना चाहिए।


उन्होंने कहा कि देश में शरीयत के अनुरूप या ब्याज रहित बैंकिंग को क्रमिक तरीके से आगे बढ़ाने की दिशा में पारंपरिक बैंकों में ‘इस्लामी खिड़की’ खोले जाने के रिजर्व बैंक के प्रस्ताव पर ठाकरे ने आश्चर्य प्रकट करते हुए कहा कि यह देश किस दिशा में बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि आप जिला सहकारी बैंकों को रुपए बदलने की अनुमति नहीं दे रहे हैं और दूसरी तरफ इस्लामी बैंकिंग की अनुमति दे रहे हैं। मुझे समझ में नहीं आ रहा कि ये देश किस दिशा में बढ़ रहा है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You