एम्बुलैंस ना मिलने पर बांहों में ले जाना पड़ा भाई का शव

  • एम्बुलैंस ना मिलने पर बांहों में ले जाना पड़ा भाई का शव
You Are HereNational
Tuesday, July 11, 2017-12:07 PM

रांचीः जहां एक तरफ गरीबों को मुफ्त स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने का दावा किया जाता हैं वहीं झारखंड में स्वास्थ्य विभाग की इस हरकत ने पूरी व्यवस्था को शर्मसार कर दिया है। मामला चतरा जिले के सदर अस्पताल का है। जहां पैसों की कमी के कारण अस्पताल द्वारा मृतक का शव घर ले जाने के लिए ऐम्बुलेंस मुहैया नही करवाई गई। आखिरकार मृतक के परिजनों को शव को अपनी बांहों में उठाकर ले जाना पड़ा।

जानकारी के अनुसार, चतरा जिले के सिदपा गांव में राजेंद्र को सांप के काट लेने पर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वक्त पर इलाज ना होने पर उसकी मौत हो गई। बाद में ऐम्बुलेंस मुहैया ना होने पर मृतक के भाई-भाभी हाथों में पकड़कर शव को घर ले गए। आए दिन स्वास्थ्य व्यवस्था की लापरवाही से मरीजों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ हो रहा है लेकिन व्यवस्था पर इस बात का कोई प्रभाव नजर नही आ रहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You