गरीबी से तंग महिला ने बच्चों को उतारा मौत के घाट

  • गरीबी से तंग महिला ने बच्चों को उतारा मौत के घाट
You Are HereNational
Friday, December 16, 2016-9:05 PM

गिरिडीह: गरीबी से परेशान एक महिला ने बेहद खौफनाक कदम उठाते हुए अपने बच्चों की हत्या कर दी। आरोपी महिला को निमियाघाट  निमियाघाट थाना में पेश कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। मामले की शिकायत आरोपी महिला शवीजन खातून के पति शौकत अली ने की। थाना प्रभारी विनोद उरांव ने बताया कि उक्त महिला ने अपना जुर्म कबूल किया है, जिसके आधार पर हत्या कर राज छिपाने का आरोप गठित कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

पति की शिकायत पर हुआ मामला दर्ज
पति शौकत ने पत्नी के खिलाफ निमियाघाट थाना में आवेदन देकर दोनों बच्चों की हत्या करने का मामला दर्ज कराया है। आवेदन में कहा है कि उसे पता चला कि निमियाघाट थाना में एक महिला को पूछताछ के लिए मधुपुर मजार के बगल नावाडीह गांव से लाया गया है। वह महिला को देखने थाना आया, जहां देखा कि महिला उसकी पत्नी शवीजन है।

दो दिनों से भूखे थे बच्चे,इसलिए की हत्या
आवेदन में शौकत ने कहा है कि बच्चों की हत्या करने का कारण पूछने पर शवीजन ने रोते हुए बताया कि घर में दो दिन से खाना नहीं बना था। बच्चे भूख से तड़प रहे थे। यह उससे देखा नहीं जा रहा था। बच्चों की इस हालात को देखते हुए उसने बच्चों को जिन्दा नहीं रहने देने का निर्णय लिया। शनिवार को बच्चों को लेकर घर से एक किलोमीटर दूर सुनसान जगह में एक कुआं में धकेला।

आरोपी महिला ने पति पर लगाए गंभीर आरोप
आरोपी महिला ने न्यायालय में अपने पति पर आरोप लगाया कि उसे हमेशा प्रताडि़त किया जाता था। बीमारी की वजह से उसे बच्चों से मिलने नहीं देता था। गरीबी के कारण बच्चों का सही से भरण-पोषण भी नहीं हो रहा था। अपनी इस करतूत से आरोपी महिला को काफी पछतावा हो रहा था उसकी आंखों से आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे थे।

 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You