लालू एंड फैमिली की मुसीबतें और बढ़ीं, जब्त होगी ये 'बेनामी' संपत्तियां

  • लालू एंड फैमिली की मुसीबतें और बढ़ीं, जब्त होगी ये 'बेनामी' संपत्तियां
You Are HereNational
Tuesday, September 12, 2017-4:29 PM

पटनाः बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के लिए और भी मुसीबत वाले होने जा रहा हैं। मनी लॉन्डरिंग केस में लालू एंड फैमली में उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी यादव, दोनों बेटियों चंदा यादव और रागिनी यादव, एक अन्य बेटी मीसा भारती और उसके पति शैलेश की बेनामी संपत्तियां सील होंगी।

जब्त होने वाली संपत्तियों में लालू के परिवार द्वारा संचालित दो कंपनियां, डीलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड के 9 प्लांट और एके इनफोसिस्टम के तीन प्लांट भी शामिल हैं।

इन दोनों कम्पनियों में बेनिफिसरीज राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव हैं। इस कम्पनी की जमीनों की बुक वैल्यू 1.9 करोड़ रुपए थी, जबकि मार्केट वैल्यू 65 करोड आंकी गई थी। वहीं एके इन्फोसिस्टमस तीन प्लांट की बुक वैल्यू 1.6 करोड़ रुपए थी और मार्केट वैल्यू 20 करोड़ रुपए आंकी गई। 

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने सोमवार को लालू प्रसाद और उनके परिवार वालों की कुल 165 करो़ड़ रुपए की संपत्तियां जब्त करने का अंतिम आदेश जारी किया था। हालांकि अभी आयकर विभाग ने जब्त की जाने वाली संपत्तियों पर कोई नोटिस नही लगाया है। 

सीबीआई इस सिलसिले में लालू प्रसाद और उनके बेटे तेजस्वी को नोटिस भी भेज चुकी है लेकिन स्वास्थ्य का हवाला देकर लालू और तेजस्वी सीबीआई की पूछताछ में शामिल होने नहीं पहुंचे।

वहीं, जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार ने सवाल उठाया कि गरीबों की राजनीति करने वाले लालू प्रसाद के पास ये बेनामी संपत्ती कहां से आई? 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You