यह है लालू परिवार की जब्त बेनामी संपत्ति का पूरा ब्यौरा

  • यह है लालू परिवार की जब्त बेनामी संपत्ति का पूरा ब्यौरा
You Are HereNational
Tuesday, June 20, 2017-6:52 PM

नई दिल्ली: आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव व उनके बच्चों पर आयकर विभाग ने शिकंजा कसते हुए उनकी संपत्ति जब्त कर ली है। लालू की पत्नी राबड़ी देवी को भी विभाग ने समन भेजा है। सूत्रों के अनुसार, विभाग ने जो संपत्ति जब्त की है उसका बाजार मूल्य तकरीबन 175 करोड़ रुपए के हैं, जबकि कागजों पर इन्हें 9.32 करोड़ रुपए में खरीदा गया था। भारती और शैलेश कुमार की 1.4 करोड़ रुपए में खरीदी गई दिल्ली के बिजवासन स्थित बेनामी संपत्ति जिसका बाजार मूल्य 40 करोड़ रुपए है जब्त की गई है। लालू परिवार की कुल संपत्ति का ब्यौरा इस प्रकार है...

1. फार्म संख्या-16, पालम फार्म्स, बिजवासन, दिल्ली.
बेनामीदारों के नाम- मिशैल पैकर्स और प्रिंटर्स प्राइवेट लिमिटेड
लाभार्थियों के नाम- मीसा भारती और शैलेश कुमार
किताबी कीमत- 1.4 करोड़ रुपए 
मार्कीट में कीमत- 40 करोड़ रुपए 

2. 1088, न्यु फ्रेंडस कॉलोनी
बेनामीदारों के नाम- एबी एक्सपोर्टस प्राइवेट लिमिटेड
लाभार्थियों के नाम- तेजस्वी यादव, चंदा और रागिनी यादव
किताबी कीमत- 5 करोड़ रुपए 
मार्कीट में कीमत- 40 करोड़ रुपए 

3. जलालपुर में 9 प्लॉट, पीएस दानापुर, पटना
बेनामीदारों के नाम- डिलाइट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड
लाभार्थियों के नाम- राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव
किताबी कीमत- 1.9 करोड़ रुपए 
मार्कीट में कीमत- 65 करोड़ रुपए

4. जलालपुर में 3 प्लॉट, पीएस दानापुर, पटना
बेनामीदारों के नाम- एके इंफोसिस्टम
लाभार्थियों के नाम- राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव
किताबी कीमत- 1.6 करोड़ रुपए
मार्कीट में कीमत- 20 करोड़ रुपए

राबड़ी देवी 18 फ्लैटों की मालकिन 
बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी पटना शहर के अंदर 18 फ्लैट और 18 पार्किंग प्लेस की मालकिन हैं। इनकी कीमत आज 20 करोड़ रुपए से ज्यादा है। राबड़ी देवी ने पटना शहर के 2 अलग-अलग स्थानों पर लालू जी के रेल मंत्री या स्वयं के मुख्यमंत्रित्व काल में निम्न जमीन लिखवा दी। अरविन्द यादव के परिवार को आवामी कॉपरेटिव बैंक के माध्यम से चेक दिखाए गए हैं इनका कभी भुगतान नहीं हुआ। आवामी कॉपरेटिव बैंक के अध्यक्ष अनवर अहमद है जिन्हें लालूजी का कबाब मंत्री कहा जाता था। जिसे लालू ने एमएलसी बनाया और जिनके यहां सीबीआई ने पिछले दिनों नोटबंदी के दौरान फर्जी बैंक खातों के आरोप में छापामारी कर करोड़ों जब्त किया था। 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You