उल्फा ने ली असम में कल सेना के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी

  • उल्फा ने ली असम में कल सेना के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी
You Are HereNational
Sunday, November 20, 2016-7:33 PM

गुवाइाटी: प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम-इंडिपेंडेंट (उल्फा-आई) और पूर्वाेत्तर के उग्रवादी संगठनों के एम संयुक्त फोरम ने असम में तिनसुखिया जिले के पेनगेरी कल सेना के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली है। इस हमले में सेना के तीन जवान शहीद हो गये थे।  

उल्फा-आई ने ईमेल से भेजे वक्तव्य में कहा कि ‘ऑपरेशन बराक’ के तहत उग्रवादियों के संयुक्त फोरम ने सेना पर कल तड़के इस हमले को अंजाम दिया। उसने सेना के हथियारों को भी छीनने का दावा किया है। इस बीच पुलिस महानिदेशक मुकेश सहाय और पुलिस तथा सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने उग्रवादियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान की समीक्षा की।  

बता दें कि असम में उग्रवादियों द्वारा किए गए हमले में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए थे। हमले में चार जवान घायल भी हुए थे। यह हादसा शनिवार तड़के तिनसुकिया जिले के पेनीगिरी इलाके में हुआ था। सेना का काफिला एक जंगली इलाके से गुजर रहा था और इसी दौरान घात लगाए बैठे उग्रवादियों ने उस पर हमला बोल दिया। उग्रवादियों ने इस हमले में अत्याधुनिक विस्फोटकों का इस्तेमाल किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You